चीनी कंपनी बेयडन्स दुनिया के 10 सबसे मूल्यवान स्टार्टअप्स में पहले स्थान पर है, सूची में केवल एक भारतीय कंपनी को मिलता है

  • हिंदी की जानकारी
  • व्यापार
  • चीन भारत | चीन एआई कंपनी बायोडेंस टॉप्स, पेटीएम वन 97 कम्युनिकेशंस; द वर्ल्ड 10 हाइएस्ट वैल्यूड स्टार्टअप्स लिस्ट

नई दिल्लीअतीत में 30 मिनट

चीनी सिंथेटिक खुफिया कंपनी बेयडांस का मूल्य 10 लाख करोड़ रुपये से अधिक है।

  • सूची में एलोन मस्क की कंपनी स्पेस एक्स तीसरे स्थान पर है।
  • चीनी निगम भारत के प्रमुख स्टार्टअप्स में निकटता से निवेश कर रहे हैं।

सीबी इनसाइट्स ने दुनिया के सबसे मूल्यवान स्टार्टअप की शीर्ष -10 सूची लॉन्च की है। इस सूची में चीन की कंपनी बेयडांस को पहले स्थान पर रखा गया है। यह अमेरिकी और चीनी मूल के स्टार्टअप निगमों का प्रभुत्व है। शीर्ष -10 में शामिल 6 निगम अमेरिकी मूल के हैं और तीन चीनी मूल के हैं। इसी समय, भारत की केवल एक कंपनी वन 97 कम्युनिकेशन (पेटीएम) ने इस सूची में नौवां स्थान प्राप्त किया है।

बोली लगाने वालों की सूची में सबसे ऊपर है

न्यूयॉर्क स्थित सूचना विश्लेषिकी मंच सीबी इनसाइट्स ने मुख्य रूप से सितंबर की जानकारी के आधार पर इस सूची को लॉन्च किया। Tid Talk की मम या डैड कंपनी, बायडांस को मूल्यवान स्टार्टअप सूची में पहले स्थान पर रखा गया है। चीनी सिंथेटिक खुफिया कंपनी बेयडांस का मूल्य 10 लाख करोड़ रुपये से अधिक है। टिक टॉक को अमेरिका और भारत में प्रतिबंधित कर दिया गया है, जो कंपनी की एक इकाई है।

लाभदायक क्षेत्र कार्यक्रम के बाद, एलोन मस्क की एयरोस्पेस क्षेत्र की कंपनी स्पेसएक्स ने अपने मूल्यांकन को 3.38 लाख करोड़ रुपये तक बढ़ा दिया है। सितंबर में शुरू की गई सूची में स्पेस एक्स को तीसरा स्थान दिया गया है। भारत की ई-कॉमर्स कंपनी वन 97 कम्युनिकेशन (पेटीएम) नौवें स्थान पर है। यह शीर्ष -10 में स्थान पाने वाली एकमात्र भारतीय कंपनी है। इसका मूल्यांकन लगभग 1.17 लाख करोड़ रुपए है।

सीबी इनसाइट्स के अनुसार, सितंबर 2020 तक दुनिया में 400 से अधिक यूनिकॉर्न स्टार्टअप हैं, जिनका मूल्य 7,000 करोड़ रुपये या अतिरिक्त है।

भारत के सबसे मूल्यवान स्टार्टअप

डेटा एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म सीबी इनसाइट्स ने जुलाई में भारतीय स्टार्टअप से जुड़ी एक सूची लॉन्च की। एक 97 संचार ने इसमें पहला स्थान प्राप्त किया है। जानकारी के मुताबिक, कंपनी का मूल्यांकन 1.17 लाख करोड़ रुपये है। इस सूची में, ऑन लाइन स्कूलिंग कंपनी बैजू और रिसॉर्ट कंपनी ओयो को क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर रखा गया है।

जानकारी के अनुसार, चीनी निगम भारत के प्रमुख स्टार्टअप्स में बारीकी से निवेश करते हैं। अलीबाबा के समान ई-कॉमर्स दिग्गजों ने पेटीएम मॉल और जोमाटो में निवेश किया है। इसके अलावा, जापानी कंपनी सॉफ्ट बैंक ने Paytm मॉल के अलावा OYO में भी निवेश किया है। सीबी इनसाइट्स के अनुसार, भारत में 21 में से आठ गेंडा स्टार्टअप सूची में सूचीबद्ध हैं। उनका मूल्यांकन 7 हजार करोड़ रुपये या अतिरिक्त है।

Leave a Comment