जीएसटी काउंसिल की 42 वीं बैठक 5 अक्टूबर तक के लिए स्थगित, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

जीएसटी परिषद की बैठक को 5 अक्टूबर तक के लिए टाल दिया गया है। पहले यह बैठक 19 सितंबर को होनी थी। इस संदर्भ में, सूत्रों ने कहा कि परिषद की 42 वीं बैठक स्थगित कर दी गई है, क्योंकि संसद सत्र उस बिंदु पर होगा। केंद्र ने अंतिम महीने में निर्धारित किया कि जीएसटी परिषद की 42 वीं बैठक 19 सितंबर को होगी। संसद का मानसून सत्र उस बिंदु से निर्धारित नहीं किया गया था।

बैठक जरूरी होगी

5 अक्टूबर को होने वाली जीएसटी परिषद की बैठक आवश्यक होगी, क्योंकि केंद्र और राज्यों के बीच जीएसटी वर्गीकरण में 2.35 लाख करोड़ रुपये के घाटे के वित्तपोषण की समस्या पर विवाद है। केंद्र की गणना के अनुसार, जीएसटी के कार्यान्वयन के लिए 97,000 करोड़ रुपये की छूट समाप्त हो गई है। राज्य के राजस्व पर कोविद -19 की छाप के परिणामस्वरूप शेष 1.38 लाख करोड़ रुपये की कमी है।

केंद्र ने दो विकल्प दिए

केंद्र के अंतिम महीने ने राज्यों को 97,000 करोड़ रुपये के ऋण को बढ़ावा देने के लिए दो विकल्प दिए या रिज़र्व बैंक द्वारा आपूर्ति की गई एक विशेष सुविधा के माध्यम से बाजार से 2.35 लाख करोड़ रु। इसके अलावा, केंद्र ने 2022 से शानदार और गैर-विनाशकारी वस्तुओं पर मुआवजा उपकर बढ़ाने का प्रस्ताव किया, ताकि राज्य ऋण का भुगतान करेंगे।

छह गैर-भाजपा प्रभुत्व वाले राज्यों – पश्चिम बंगाल, केरल, दिल्ली, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु ने केंद्र को पत्र लिखकर राज्यों द्वारा ऋण लेने के विकल्प का विरोध किया था। सूत्रों ने कहा कि 8 सितंबर तक सात राज्यों ने अपने चयन के बारे में केंद्र को जानकारी दी है।

गुजरात, बिहार, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और त्रिपुरा ने 97,000 करोड़ रुपये के बंधक का विकल्प चुना है। इसी समय, सिक्किम और मणिपुर ने बाजार से 2.35 लाख करोड़ रुपये का दूसरा ऋण चुना है।

Leave a Comment