पुलिस द्वारा किन्नर को दिल्ली के शाहदरा में बंद कर दिया गया।

पूरे समाज के लंबे जीवन के लिए प्रार्थना करने वाले व्यक्तियों को क्या पता था कि उनके कुछ अज्ञात बदमाश सरेराह गोली मारकर उनकी हत्या कर देंगे। राजधानी दिल्ली में उपद्रवियों की हत्याएं कितनी प्रबल हैं, यह दिल्ली के शाहदरा जिले में देखा गया। देर रात, एकता जोशी बाजार से वापस आ रही थीं, तुरंत कुछ बदमाशों ने एकता पर पीछे से गोलीबारी शुरू कर दी।

इस समय के दौरान, उनके सभी साथियों में से एक, अनीता जोशी के साथ वर्तमान में थी, हालांकि वह इस गोलीबारी में बच गई थी। जबकि बदमाशों द्वारा चलाई गई गोली से एकता गंभीर रूप से घायल हो गई, जिन्हें तत्काल मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां पूरे उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

किन्नर समाज के कई व्यक्तियों में शोक की लहर

इस घटना के बाद, किन्नर पड़ोस के व्यक्ति अपने गुरु के मरने के दुख में आम जनता के फ्लैट में बैठे हैं। जिस समय इस घटना को अंजाम दिया गया, उस समय दायरे में तरह-तरह की गड़बड़ी थी, इसके बावजूद बदमाशों ने एकता जोशी की काया में एक के बाद एक करके तीन गोलियां गिरा दीं। वर्तमान में, प्रधान पुलिस इस मामले में कुछ कहने से बच रहे हैं।

विपरीत हाथ पर, अपने पूरे किन्नर समाज में गुस्से के साथ, इसके अलावा गम का माहौल है। हालांकि, मूल व्यक्तियों का कहना है कि एकता उत्कृष्ट आदतों का एक ट्रांसजेंडर थी। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है और आस-पास लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों को स्थापित करने की कोशिश की गई है ताकि आरोपी जल्द ही पकड़ में आ सके और हत्या का पर्दाफाश हो सके।

Leave a Comment