लागत नहीं आई, खराब फसल को कवर करना अब महंगा हो गया है

शाजापुरभूतकाल में 7 मिनट

इस बार वायरस के कारण किसानों की 90 टन फसल पूरी तरह नष्ट हो गई। फसल इतनी खराब हो गई है कि किसानों को खेतों को ढंकना महंगा पड़ रहा है। कई किसान खड़ी फसलों पर ट्रैक्टर चला रहे हैं। हालांकि इस बार फसल शानदार थी, लेकिन यह वायरस के कारण पूरी तरह से नष्ट हो गई।

ग्राम पिरुमरोड़ के सरपंच राय सिंह गुर्जर का कहना है कि इस बार लागत नहीं निकल रही है। फसल पूरी तरह से टूट चुकी है। खेतों से फसल को हटाने के लिए इसकी कीमत दो हजार प्रति बीघा है। फसल से खरीदी की कोई बात नहीं है। इसे दो हजार किसानों को अपनी जेब से डालना होगा।

0

Leave a Comment