प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020: ऑनलाइन आवेदन

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Apply | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन | Garib Kalyan Rojgar Form |  गरीब कल्याण रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन | मोदी गरीब रोजगार योजना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान को शुरू करने की घोषणा हमारे देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा देश के प्रवासी मजदूरों की मदद करने तथा उनको रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए की गयी इस अभियान को  हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा  20 जून को शुरू कर दिया गया है। देश में चल रहे कोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन के दौरान जो प्रवासी मजदूर दूसरे राज्य से अपने घर वापस लोट कर आये है उन्हें इस अभियान  के अंतर्गत काम दिया जायेगा। यह Garib Kalyan Rojgar Abhiyan 6 राज्यों के 116 जिलों में मिशन मोड में चलाया जाएगा, जो 125 दिनों तक चलेगा। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,दस्तावेज़ आदि प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े और योजना का लाभ उठाये।

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

इस अभियान के अंतर्गत देश के ग्रामीण क्षेत्रो के प्रवासी मजदूरों को अधिक लाभ प्रदान किया जायेगा। इस अभियान को 6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिनों तक प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में चलाया जाएगा।  हमारे देश की वित्तमंत्री सीतारमण का कहना है कि हम 125 दिनों के भीतर सरकार की लगभग 25 योजनाओं को 116 जिलों तक पहुंचाएंगे। इन सभी योजनाओं को सरकार ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ के तहत साथ लाएगी। तथा हम सभी योजनाओं को 125 दिनों के भीतर सेचुरेशन लेवल पर लेकर जाएंगे। इस योजना का लाभ उठाने के लिए देश के प्रवासी मजदूरों को इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। इस Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana के अंतर्गत लगभग 50 हज़ार करोड़ रूपये का खर्च सरकार द्वारा किया जायेगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

मुख्य तथ्य गरीब रोजगार योजना 2020

अभियान का नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान
इनके द्वारा घोषणा की गयी देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
इनके द्वारा शुरू की जाएगी देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 
लॉन्च की तारीक 20 जून सुबह 11 बजे
लाभार्थी देश के प्रवासी मजदूर
उद्देश्य रोजगार के अवसर प्रदान करना
योजना अवधि और समय 125 दिन

उद्देश्य गरीब कल्याण रोजगार- Gareeb Kalyan Rojgar

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि पूरे भारत देश के कोरोना वायरस का संकट बना हुआ है जिसकी वजह से पूरे भारत देश में  लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है । इस लॉक डाउन की वजह से सबसे जयादा असर देश के मजदूरों पर पड़ा है जो मजदूर काम की वजह से अन्य दूसरे राज्यों में रह रहे थे रोजगार बंद होने की वजह से उन पर बहुत प्रभाव पड़ा है रोजगार न होने की वजह से वह अपने घर वापस लोट आये है उन प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरू किया गया है इस अभियान के ज़रिये अपने घर आये प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर प्रदान  किये जायेगे  और उनकी जीविका को सुधारा जायेगा। जिससे वजह काम करने अपने परिवार का भरण पोषण कर सके। और उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सके।

New Update Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान को शुरू करने के अवसर कर 20 जून को कॉन्फ्रेंस की गयी। इस कॉंफ्रेंस में हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ कृषि विभाग के मिनिस्टर नरेंद्र सिंह तोमर ,उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ , बिहार में मुख्यमंत्री मान्य नितीश कुमार जी , एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ,राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत , झारखण्ड के सीएम हेमंत सोरेन और उड़ीसा के सीएम प्रताप जेन और केंद्र सरकार मान्य मंत्री गण आदि शामिल हुए। कोरोना वायरस की वजह से देश के प्रवासी मजदूरों श्रमिकों को काफी असुविधाएं हुए है। इस असुविधा को देखते हुए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा आज के दिन 20 जून को 11 बजे बिहार के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की मौजूदगी में वीडियो-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत बिहार के खगड़िया जिले के बेलदौर प्रखंड के तेलिहार गांव से की गयी है।

पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना

कृषि मंत्री जी ने इस कॉन्फ्रेंस में कहा है की जैसे आप सभी लोग जानते है पूरा भारत देश कोरोना वायरस की वजह से बड़े संकट से गुज़र  रहा है इसी को देखते हुए देश में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है। इसी को देखते हुए मान्य प्रधानमंत्री जी ने मजदूरों ,गरीबो किसानो आदि के लिए 70 हज़ार करोड़ रूपये का पैकेज शुरू किया था। देश के मजदूर, कामगार  रोजगार के लिए अन्य राज्यों में रह रहे थे वह कोरोना वायरस के कारण अपने घर वापस लोट आये है और अपने क्षेत्र में ही रहकर काम करना चाहते है तो उन्हें Garib Kalyan Rojgar Abhiyan के तहत अपने ही क्षेत्र में हुनर और रूचि के अनुसार रोजगार प्रदान  किया जायेगा। जिससे ग्रामीण क्षत्रो में रोजगार आयाम खुल सके।

गरीब रोजगार अभियान नयी घोषणा

हमारे देश के मान्य प्रधानमंत्री  जी ने कहा है कि इस अभियान के तहत 50 हज़ार करोड़ रूपये का खर्च केंद्र सरकार द्वारा किया जायेगा। यह अभियान 125 दिनों के लिए 6 राज्यों के 116 जिलों के सम्पन किया जायेगा। इस योजना के तहत 25 कार्य  प्रमुख रूप से चुने गए है।  इस चुने गए 25 कार्यो से रोजगार के अवसर तेज़ी से साथ सृजित होंगे। इस 125 दिनों के अभियान के तहत देश के अधिक से अधिक श्रमिकों , मजदूरों को रोजगार प्रदान किया जायेगा। बिहार के मुख्यमंत्री जी का कहना है कि यह गरीब कल्याण रोजगार अभियान बिहार में बाहर से  आये प्रवासी मजदूरों को काफी राहत पहुचायेगा।

गरीब कल्याण रोजगार योजना में राज्यों की सूची

क्रमांक संख्या राज्यों का नाम जिले आकांक्षात्मक जिले
1 बिहार 32 12
2 उत्तर प्रदेश 31 5
3 मध्य प्रदेश 24 4
4 राजस्थान 22 2
5 ओडिशा 4 1
6 झारखण्ड 3 3
कुल जिले 116 27

मोदी गरीब रोजगार योजना 2020

इस अभियान के तहत बिहार के 38 में से 32 जिलों का चयन किया गया है। इस योजना के अंतर्गत विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रो के विकास के मकसद से 25 विकास कार्य जैसे आंगनवाड़ी केंद्र , सामुदायिक केंद्र , कृषि ,सड़क , आवास ,बागवानी जल संरक्षण आदि पर जोर दिया जायेगा। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत प्रधानमंत्री  जी के द्वारा एक और घोषणा कि गयी है पीएम जी का कहना है कि जहा पर पंचायत भवन नहीं है वहाँ पर पंचायत भवन का निर्माण किया जायेगा। और इस अभियान में आधुनिक गांव को भी जोड़ा जायेगा।इस अभियान के तहत बिहार ,राजस्थान ,मध्य प्रदेश ,उड़ीसा ,उत्तर प्रदेश झारखण्ड आदि इस 6 राज्यों के 116 जिलों के मजदूरों ,श्रमिकों और कामगार महिलाओ को घर के पास ही कार्य प्रदान किया जायेगा। जिससे प्रवसि मजदूरों को अपनी आजीविका के लिए बिहार रोजगार मिल सके।

PM Garib Kalyan Rojgar Yojana 2020 की कवरेज

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान  के अंतर्गत उन जिलों को शामिल किया गया है जहां पर वापस लौटे प्रवासी कामगारों की संख्या 25000 से ज्यादा है। यह राज्य बिहार, झारखंड, उड़ीसा, राजस्थान, मध्य प्रदेश तथा उत्तर प्रदेश है। इन 6 राज्यों के लगभग 116 जिले शामिल किए गए हैं। यह अभियान 20 जून 2020 से 125 दिन की अवधि के लिए चलाया जाएगा।

योजना में 25 कार्यो की सूची

25 कार्य और गतिविधियों को प्राथमिकता के आधार पर करने का लक्ष्य निम्नलिखित तालिका में उल्लिखित है

क्रमांक संख्या कार्य / गतिविधि
1 सामुदायिक स्वच्छता केंद्र (CSC) का निर्माण
2 ग्राम पंचायत भवन का निर्माण
3 14 वें एफसी फंड के तहत काम करता है
4 राष्ट्रीय राजमार्ग कार्यों का निर्माण
5 जल संरक्षण और कटाई का काम करता है
6 कुओं का निर्माण
7 वृक्षारोपण का काम करता है
8 बागवानी
9 आंगनवाड़ी केंद्रों का निर्माण
10 ग्रामीण आवास कार्यों का निर्माण
11 ग्रामीण कनेक्टिविटी का काम करता है
12 ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन कार्य करता है
13 खेत तालाबों का निर्माण
14 पशु शेड का निर्माण
15 पोल्ट्री शेड का निर्माण
16 बकरी शेड का निर्माण
17 वर्मी-कम्पोस्ट संरचनाओं का निर्माण
18 रेलवे
19 रुर्बन
20 पीएम कुसुम
21 भारत नेट
22 CAMPA का वृक्षारोपण
23 पीएम उर्जा गंगा प्रोजेक्ट
24 लाइवलीहुड के लिए केवीके प्रशिक्षण
25 जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (DMFT) काम करता है

गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 का नोडल मंत्रालय

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का कार्यान्वयन भारत सरकार के ग्रामीण विकास विभाग द्वारा किया जाएगा। इस अभियान के अंतर्गत एक मंत्रिमंडल सचिव की अध्यक्षता में सचिवों की समिति बनाई जाएगी जो इस अभियान की समीक्षा करेगी। सेंट्रल नोडल ऑफिसर हर जिले में निर्धारित किया जाएगा जो इस बात का ध्यान रखिएगा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान सही तरीके से चल रहा है या फिर नहीं।

मुख्य विशेषताएँ गरीब कल्याण रोजगार (Garib Kalyan Rojgar)

  • लॉक डाउन के दौरान को प्रवासी मजदूर अपने घर वापस लोट कर आये है उन्हें इस अभियान के तहत काम मुहैया कराया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत सबसे ज्यादा लाभ ग्रामीण क्षेत्रो के प्रवासी मजदूरों को प्रदना किया जायेगा।
  • देश के 6 राज्यों के116 जिलों में 125 दिनों तक गरीब कल्याण रोजगार अभियान चलेगा जायेगा  इस अभियान के सरकारी तंत्र प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में काम करेंगे।
  • इस अभियान के तहत 116 जिलों के 25 हजार मजदूरों को 125 दिनों का काम मुहैया जायेगा। 
  • आपको बता दें कि इन 6   राज्यों के 116 जिलों में करीब 67 लाख प्रवासी मजदूर वापस हुए हैं। इन 116 जिलों में बिहार में 32, उत्तर प्रदेश में 31, मध्य प्रदेश में 24, राजस्थान में 22, ओडिशा में 4 और झारखंड में 3 जिले शामिल हैं।
  • केंद्र सरकार द्वारा ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का बजट 50 हजार करोड़ रुपये रखा गया है ।
  • PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan के तहत कम्युनिटी सैनिटाइजेशन कॉम्पलेक्स, ग्राम पंचायत भवन, वित्त आयोग के फंड के अंतर्गत आने वाले काम, नैशनल हाइवे वर्क्स, जल संरक्षण और सिंचाई, कुएं की खुदाई. पौधारोपण, हॉर्टिकल्चर, आंगनवाड़ी केंद्र, पीएमआवास योजना (ग्रामीण), पीएम ग्राम संड़क योजना, रेलवे, श्यामा प्रसाद मुखर्जी RURBAN मिशन, पीएम KUSUM, भारत नेट के फाइबर ऑप्टिक बिछाने, जल जीवन मिशन आदि के काम कराए जाएंगे।
  • इस अभियान को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 20 जून को आरम्भ किया जायेगा।  
  • इस योजना  का मकसद देश के ग्रामीण इलाकों में आजीविका के अवसर बढ़ाना और अपने घर वापस आये प्रवासी मजदूरों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाना।

गरीब कल्याण रोजगार योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ देश के प्रवासी मजदूरों को प्रदान किया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना के शुभारंभ के दौरान कहा की आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत क्षेत्रीय उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है हर राज्य जिले में ऐसे अनेक लोकल उत्पाद हैं, जिनको की बढ़ावा देने पर क्षेत्रीय उद्योगों को लाभ होगा।
  • योजना के साथ सभी का समन्वय बना रहे इसके लिए 12 मंत्रालय एक साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं इसमें ग्रामीण विकास, पंचायती राज, सड़क परिवहन भी शामिल है।
  • PM Garib Kalyan Yojana में किसी मजदूर को उसकी कार्यकुशलता के आधार पर ही काम दिया जायेगा।
  • इस योजना से प्रवासी श्रमिकों की आर्थिक में सुधार होगा।
  • राज्यों में बेरोजगारी कम होगी लोगो को रोजगार मिलेगा।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में विकास की गति बढ़ेगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 आने वाली योजनाओं की सूची

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अभियान के अंतर्गत सरकार द्वारा चलाई जाने वाली 25 योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया जाएगा। यह काम 125 दिन के अंदर अंदर किया जाएगा। सरकार द्वारा चलाई जाने वाली इन 25 योजनाओं में से कुछ योजनाएं कुछ इस प्रकार है।

क्रम संख्या मंत्रालय योजनाएं
1 कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग प्रशिक्षण/कौशल विकास
2 रक्षा मंत्रालय सीमावर्ती सड़कें
3 दूरसंचार विभाग भारत नेट
4 नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा विभाग पीएम कुसुम
5 पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा परियोजना
6 पर्यावरण और वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय सी ए ए एम पी ए निधियां
7 पेयजल और स्वच्छता विभाग स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण
8 रेलवे मंत्रालय रेलवे कार्य
9 खान मंत्रालय जिला खनिज निधि
10 सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय भारतमाला और अन्य योजनाएं
11 पंचायती राज मंत्रालय वित्त आयोग अनुदान
12 ग्रामीण विकास विभाग श्याम प्रसाद मुखर्जी रूब्रन मिशन
13 ग्रामीण विकास विभाग महात्मा गांधी नरेगा
14 ग्रामीण विकास विभाग प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना
15 ग्रामीण विकास विभाग प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण

इन 12 मंत्रालयों/विभागों का संयुक्त अभियान

  • ग्रामीण विकास मंत्रालय।
  • पंचायती राज मंत्रालय।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय।
  • खान मंत्रालय।
  • पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय।
  • पर्यावरण मंत्रालय।
  • रेलवे मंत्रालय।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय।
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय।
  • सीमा सड़क विभाग।
  • दूरसंचार विभाग।
  • कृषि मंत्रालय।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 की पात्रता

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

गरीब  कल्याण रोजगार योजना वेब पोर्टल

इस योजना के अंतर्गत प्रवासी मजदूरों को ऑनलाइन आवेदन के लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास  और  पंचायती राज्य मंत्री मान्य नरेंद्र सिंह तोमर जी के द्वारा 26 जून को दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंस में  गरीब कल्याण रोजगार ऑनलाइन वेब पोर्टल को लॉन्च किया है। केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने कहा है कि कोविद -19 लॉकडाउन की वजह से अपने मूल स्थानों पर लौट कर आए है उन लाखो प्रवासी श्रमिकों को इस अभियान के तहत सरकार द्वारा  चार महीने तक रोज़गार प्रदान किया जायेगा। यह वेब पोर्टल प्रवासी मजदूरों को  इस अभियान के विभिन्न जिला-वार और योजना-वार घटकों के बारे में जानकारी प्रदान करने के अलावा 6 राज्यों के 116 जिलों में 50,000 करोड़ रुपये की व्यय निधि के साथ शुरू किए गए कार्यों को पूरा करने की प्रगति की निगरानी रखने में मदद करेगा।इस पोर्टल पर सभी प्रवासी मजदूरों ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान कार्यान्वयन

  • इस अभियान की प्रगति सेंट्रल dash बोर्ड तथा मोबाइल ऐप के माध्यम से ट्रक की जाएगी।
  • मोबाइल ऐप के माध्यम से फीडबैक भी अपलोड किया जा सकेगा। जो कि जल्द ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होगा।
  • सेंट्रल नोडल ऑफिसर को खुद को आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्टर कराना होगा।
  • राज्य का नोडल ऑफिसर तथा जिले के नोडल ऑफिसर को भी अपने आप को आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्टर कराना होगा। कहने का तात्पर्य यह है कि इस अभियान से जुड़े हर एक अधिकारी को अपने आप को रजिस्टर कराना होगा।
  • सभी विभागों को अपनी प्रगति का आंकड़ा आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड करना होगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में आवेदन कैसे करे?

देश के जो प्रवासी मजदूरों इस अभियान के तहत सरकार द्वारा रोजगार के अवसर प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। क्योकि अभी इस योजना को शुरू करने की घोषणा  वित् मंत्री सीतारमण के द्वारा की गयी है इस योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा 20 जून को लॉन्च कर दिया गया है । इस योजना को शुरू होने के बाद इस योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया को शुरू किया जायेगा जैसे ही इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत आवेदन प्रक्रिया को शुरू कर दिया जायेगा हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बता देंगे। आवेदन  प्रक्रिया शुरू होने के बाद प्रवासी मजदूर इस अभियान के तहत आवेदन कर सकते है। और रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकते है।

Contact information

हमने अपने इस लेख में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप ईमेल लिखकर अपनी समस्या का समाधान कर सकते है। ईमेल gkra-mord@nic.in है।