विवाद से विश्वास स्कीम क्या है

विवाद से विश्वास योजना 2020 क्या है | Nirmala Sitharaman Vivad Se Vishwas Yojana 2020 | विवाद से विश्वास स्कीम आवेदन प्रक्रिया | Vivad Se Vishwas Yojana 2020 in Hindi

Vivad Se Vishwas Scheme की शुरुआत  केंद्रीय वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने 1 फरवरी 2020 को केंद्रीय बजट पेश करते हुए विवादित करों से जुड़ी समस्याओ को सुलझाने के लिए की गयी है । इस योजना के अंतर्गत करदाताओं के प्रत्यक्ष कर के विवादित टैक्स मामलों को निपटाया (Disputed tax cases of direct tax payers will be dealt with.) जायेगा ।इस विवाद से विश्वास स्कीम 2020 के अंतर्गत करदाताओं को केवल विवादित करों की राशि का भुगतान ही (Paying only the amount of disputed taxes) करना होगा । इस रकम पर किसी तरह का ब्याज या दंड  आदि आपको नहीं चुकाना (You should not pay any interest or penalty etc. on this amount ) होगा ।

विवाद से विश्वास स्कीम
2020 क्या
है

वित् मंत्री का कहना है कि Vivad Se Vishwas Scheme 2020 से लाभ ऐसे करदाता को प्रदान किया जायेगा जिनका टैक्स को लेकर किसी फोरम में मुकदमा (Benefit from the scheme will be provided to such taxpayers, whose case is pending in any forum regarding tax.) लंबित है। आयकर रिटर्न प्रक्रिया फेसलेस करने के बाद करदाताओं के लिए अपील करना भी आसान कर दिया है। इसके जरिये करदाताओं की किसी अपील पर उसकी पहचान उजागर नहीं की जाएगी।  आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से विवाद से विश्वास योजना 2020  के बारे में  सम्पूर्ण जानकारी प्रदान  करने जा रहे है । अतः हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े और इस योजना का लाभ उठाये ।

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट

विश्वास से विवाद योजना नई अपडेट

टैक्‍स विवादों के निपटान के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई ‘विवाद से विश्वास स्‍कीम’ की समय सीमा 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ा की गयी है हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को इस योजना की समय सीमा बढ़ाने का ऐलान कर दिया है इस स्‍कीम के तहत करदाता सरकार के साथ बिना अतिरिक्‍त शुल्‍क के अपने पुराने टैक्‍स विवाद को निपटा सकते हैं। इस योजना के तहत लंबित विवादों के निपटारे की चाह रखने वाले करदाता अब 31 दिसंबर 2020 तक आवेदन कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें अलग से किसी तरह का कोई शुल्क नहीं देना होगा। वित्त मंत्री ने एक अन्य घोषणा में कहा कि सभी धर्मार्थ न्यासों, गैर- कॉरपोरेट कारोबारों, पेशेवरों, एलएलपी फर्मों, भागीदारी फर्मों सहित को उनका लंबित रिफंड जल्द लौटाया जाएगा।

Vivad Se Vishwas Scheme 2020 Highlights

योजना का नाम विवाद से विश्वास स्कीम
इसके द्वारा शुरू की गयी है केंद्रीय वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी
लॉन्च की तारीक 1 फरवरी 2020
लाभार्थी आयकर दाता
भुगतान  की
तारीक
30 जून, 2020

विवाद से विश्वास योजना 2020 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रत्यक्ष  कर भुगतानों में मुकदमेबाजी को कम करना है । वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा शुरू की गयी विवाद से विश्वास योजना 2020 के तहत प्रत्यक्ष कर के विवादित टैक्स मामलों को निपटाने की व्यवस्था की गई ।जिसमे करदाताओं को सिर्फ विवादित करों की राशि का भुगतान ही करना होगा और उन्हें  टैक्स पर लगे ब्याज (Interest) और दंड (Penalty) में पूरी छूट दी जाएगी।इस Vivad Se Vishwas Scheme 2020 के ज़रिये करदाता  मुकदमें की कष्टदायक प्रक्रिया से राहत पा सकेंगे ।इस योजना  जरिये करदाता और प्रशासन के बीच भरोसा बढ़ाने में मदद मिलेगी व करदाताओं का अधिकार स्पष्ट होगा।

विवाद से विश्वास योजना के लाभ लेने की समय सीमा

इस योजना के तहत करदाताओं को अपने टेक्स का भुगतान 31 मार्च
2020 तक करना होगा अगर कोई करदाता इस विवाद से विश्वास योजना 2020 के तहत  31 मार्च 2020   के बाद भुगतान करता है तो उन्हें  कुछ अतिरिक्त राशि का भुगतान करना होगा। यह योजना
30 जून, 2020 तक जारी रहेगी। इसलिए सभी आयकर दाताये इस योजना का लाभ 30 जून 2020 तक
उठा सकते है । वित्त मंत्री ने कहा कि विभिन्न अपीलीय मंचों यानी आयुक्त
(अपील) आईटीएटी, उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय में प्रत्यक्ष कर संबंधी
4,83,000 मामले लंबित हैं ।जिनका  इस योजना
के तहत समाधान किया जायेगा ।

Vivad Se Vishwas Scheme 2020 आवेदन प्रक्रिया

जो करदाता इस योजना का
लाभ उठाना चाहते है तो उहने
समय से अपने टेक्स
का भुगतान करना होगा ।
इस योजना के तहत आवेदन
की कोई जानकारी उपलब्ध
नहीं कराई गयी है
। जैसे ही  इस योजना के
तहत  कोई
ऑनलाइन आवेदन होगा तो हम
आपको अपने इस आर्टिकल
के माध्यम से बता देंगे
। तब तक आपको
थोड़ा इंतज़ार करना होगा ।