पुरुषोत्तम माह की शुरुआत 18 सितंबर, 14 दिन के शुभ योग से होगी

पुरुषोत्तम मास 2020: ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि। पुरुषोत्तम माह 18 सितंबर को उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र शुक्ल योग में शुरू हो रहा है। इसे अधिमास के रूप में संदर्भित किया जा सकता है। इसे सामूहिक पूजा, भक्ति, पूजा, तपस्या, जप, योग, ध्यान आदि के लिए सबसे आवश्यक माना जाता है। पुरुषोत्तम मास 16 अक्टूबर तक रहेगा, इस महीने में 14 दिनों तक शुभ योग रहेगा। जिसमें 9 सर्वार्थसिद्धि योग, 2 दिन द्विपुष्कर योग, 1 दिन अमृतसिद्धि योग और 1 दिन रवि पुष्य नक्षत्र रहेगा। 18 सितंबर का दिन शुभ हो सकता है।

ज्योतिषाचार्य सुनील चौपड़ा के अनुसार, पुरुषोत्तम महीना भगवान की पूजा और भक्ति का महीना है। इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। इस महीने में उपवास, पूजा पाठ, यज्ञ, हवन, श्रीमद्भागवत पुराण, श्री विष्णु पुराण का चिंतन इत्यादि। विशेष रूप से फलदायी हैं। अधिमास के प्रमुख देवता भगवान विष्णु हैं। अतः समय रहते भगवान विष्णु के सभी मंत्रों का जाप करना बहुत सहायक होता है।

यह शुभ योग और इसके परिणाम होंगे

18 सितंबर, उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र और शुक्ल योग के परिणामस्वरूप, यह दिन शुभ रहेगा। सर्वार्थ सिद्धि योग 26 सितंबर, 1, 2, 4, 6, 7, 9, 11 और 17 अक्टूबर को होगा। ऐसा माना जाता है कि यह योग सभी इच्छाओं को पूरा करता है और प्रत्येक कार्य को सफलता प्रदान करता है।

बिपुष्कर योग ऐसा माना जाता है कि इस दिन समाप्त किया गया कार्य दोहरा परिणाम प्रदान करता है। यह योग 19 और 27 सितंबर को होगा। अमृत ​​सिद्धि योग ऐसा माना जाता है कि यह योग कार्य शुभ परिणाम प्रदान करता है और ये फल लंबे समय तक चलते हैं। अमृत ​​सिद्धि योग 2 अक्टूबर को होगी। इसके बाद, 11 अक्टूबर को पुष्य नक्षत्र और रवि पुष्य नक्षत्र का मुहूर्त होगा। इस दिन कोई भी शुभ कार्य संपन्न किया जा सकता है।

द्वारा प्रकाशित किया गया था: हेमंत कुमार उपाध्याय

नै दूनिया ई-पेपर सीखने के लिए यहीं क्लिक करें

नै दूनिया ई-पेपर सीखने के लिए यहीं क्लिक करें

Download NewDuniya App | मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश और दुनिया की सभी जानकारी के साथ नाई दुनी ई-पेपर, कुंडली और बहुत सारे सहायक प्रदाता प्राप्त करें।

Download NewDuniya App | मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश और दुनिया की सभी जानकारी के साथ नाई दुनी ई-पेपर, कुंडली और बहुत सारे सहायक प्रदाता प्राप्त करें।