स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 Online Registration Stree Swabhiman Yojana

स्त्री स्वाभिमान योजना आवेदन | Online Registration Stree Swabhiman Yojana | स्त्री स्वाभिमान योजना फॉर्म | स्त्री स्वाभिमान स्कीम सीएससी रजिस्ट्रेशन

Stree Swabhiman Yojana की शुरुआत केंद्र सरकार की गयी है और इस योजना का उद्धाटन केंद्रीय मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद जी के द्वारा सीएससी महिला वीएलई (Villege Level Entrepreneur) कार्यक्रम के दौरान किया गया है | स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 के अंतर्गत देश की लड़कियों और महिलाओ को सेनेटरी नेपकिन प्रदान किये जायेगे जिससे महिला और लड़किया अपने मासिक धर्म चक्र के समय स्वस्थ रह सके | प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता आदि प्रदान करने जा रहे है |

Stree Swabhiman Yojana 2020 | स्त्री स्वाभिमान योजना

सरकार ने  Stree Swabhiman Yojana 2020  को  देश की शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रो की लड़कियों और महिलाओ को अच्छा स्वास्थ्य और स्वच्छता प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है इस योजना के तहत सीएससी द्वारा प्रदान किये जाने वाले नए पैड अधिक पर्यावरण के अनुकूल और काफी सस्ते होंगे जिससे अधिक से अधिक महिलाये और लड़कियाँ कम से कम दाम में इन्हे खरीद सकेंगी |देश की सभी महिलाये इस स्त्री स्वाभिमान योजना का लाभ CSC के ज़रिये उठा सकेंगी |

महिला
स्वाभिमान योजना 2020

इस समय लगभग 15 कम लागत वाली सेनेटरी नेपकिन निर्माण इकाइयां पुरे देश में मौजूद है इस  महिला स्वाभिमान योजना 2020 के अंतर्गत पुरे देश में बहुत सी जगहों पर यूनिट्स लगायी जाएगी जिससे 8 से 10 महिलाओ को सेनेटरी नेपकिन बनाने के लिए  रोजगार भी प्रदान किया जायेगा |देश के सभी ग्रामीण क्षेत्रो की लड़कियों और महिलाओ को सेनेटरी नेपकिन के इस्तेमाल करने के फायदे भी बताये जायेगे और बहुत सी महिलाओ को इस योजना से जोड़ा जायेगा |

Stree Swabhiman Yojana Highlights

योजना का नाम स्त्री स्वाभिमान योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी देश की महिलाये और
लड़किया
उद्देश्य सेनेटरी नेपकिन प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइट https://csc.gov.in/

Stree Swabhiman Yojana 2020 का उद्देश्य

जैसे
की आप लोग जानते
है कि लड़कियों को
महामारी के समय स्कूलों
में किसी भी प्रकार के
सांस्कृतिक कार्यक्रम ,क्रीड़ा में भाग नहीं ले पाती और उन्हें
ऐसे समय में काफी परेशानियाँ होती है और महिलाओ
को भी महामारी के
समय घर के सरे
काम करने पड़ते है जिससे वह
अपनी सेहत का ध्यान नहीं
रख पाती इसी के चलते उन्हें
कई प्रकार की बीमारिया घेर
लेती है इन सभी
बातो पर ध्यान देते
हुए सरकार ने इस Stree Swabhiman Yojana 2020  को
लॉन्च किया है |इस योजना के
ज़रिये महिलाओ को सशक्तिकरण प्रदान
करना और सेनेटरी नेपकिन
के ज़रिये महिलाये और लड़कियाँ स्वस्थ
और स्वच्छ रह सके |इस
स्त्रीस्वाभिमान
योजना 2020
  के
ज़रिये महिलाओ की रोजगार भी
प्रदान किया जायेगा |

Ayushman Bharat Golden Card

Stree Swabhiman Yojana Statistics

States and UT covered 39
District covered 693
Blocks covered 3960
Number of beneficiaries 5066271

स्त्री
स्वाभिमान योजना 2020 के लाभ (Stree Swabhiman
Yojana
)

  • इस योजना के अंतर्गत देश की महिलाओ  को सीएससी द्वारा सस्ती दरों पर सेनेटरी नेपकिन प्रदान किये जायेगे और लड़कियों को मुफ्त सेवा प्रदान की जाएगी |
  • स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 का लाभ ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो की उन सभी महिलाओ और लड़कियों को प्रदान किया जायेगा जिनको हर महीने महामारी होती है |
  • इस योजना के तहत महिलाओ को सेनेटरी नेपकिन बनाने के लिए रोजगार भी प्रदान किया जायेगा जिससे महिलाये आत्मनिर्भर बन सके |
  • सरकार द्वारा इस योजना के ज़रिये  ग्रामीण क्षेत्रो की ज़्यादा से ज़्यादा महिलाओ को लाभ पहुंचाया जायेगा |
  • इस योजना के तहत महिलाओ को स्वास्थ्य सम्बंधित जानकारी भी  प्रदान की जाएगी |

Stree Swabhiman Yojana 2020 के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • इस योजना का लाभ देश की महिलाओ और लड़कियों को प्रदान किया जायेगा ।
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे (Registration) ?

जो
इच्छुक महिलाये इस योजना के
तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन
करना चाहती है वह नीचे
दिए गए तरीके का
पालन करे |

  • सर्वप्रथम आवेदिका को ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा |ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके  सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इसके बाद आपको पुलिस सत्यापन फॉर्म प्रारूप का विकल्प दिखाई देगा |इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |फिर इस फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद भरे और फिर अपने नज़दीकी पुलिस स्टेशन से सत्यापित करे |
  • इसके पश्चात् आपको पंजीकरण की प्रक्रिया के लिए नीचे क्लिक करे और आगे बढे इसके  बाद आपके सामने एक नया पृष्ठ खुल जायेगा |इस पर आपको अपना आधार कार्ड नंबर भरना होगा
  • फिर रजिस्ट्रेशन के लिए आधार संख्या का प्रमाणीकरण eKYC के माध्यम होता है इसके बाद KYC का चयन करे चयन करने के बाद आगे बढ़ने के लिए क्लिक करे |
  • इसके पश्चात् आपके सामने एक पेज खुल जायेगा
स्त्री स्वाभिमान योजना
  • जिस पर आपको एक फॉर्म मिलेगा जिसमे आपको पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी | सभी जानकारी भरने के बाद केंद्र के आवश्यक तस्वीर पुलिस सत्यापन दस्तावेज़ के साथ अपलोड करे और इसके बाद सब्मिट के बटन पर क्लिक करे |
  • इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा |

स्त्री स्वाभिमान योजना लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको स्त्री स्वाभिमान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
stree swabhiman yojana
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना यूजर नेम तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे।

स्त्री स्वाभिमान योजना मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अपने फोन में गूगल प्ले स्टोर खोलना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में स्त्री स्वाभिमान दर्ज करना होगा।
  •  इसके पश्चात आपको को सर्च कर बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने सूची खुलकर आएगी।
  • आप को सबसे ऊपर वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार स्त्री स्वाभिमान मोबाइल ऐप आपके फोन में डाउनलोड हो जाएगा।

Contact Information

इस लेख के माध्यम से हमने आपको स्त्री स्वाभिमान योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप यहां दी गई लिंक पर क्लिक करके  कांटेक्ट इनफार्मेशन प्राप्त करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

अपना डिजिटल सेवा केंद्र पंजीकरण, CSC ID रजिस्ट्रेशन

Digital CSC Seva Kendra Registration | CSC Digital Seva Online Registration | सामान्य सेवा केंद्र डिजिटल सर्विस पोर्टल | कॉमन सर्विस सेंटर कैसे खोलें | CSC VLE Apply Online | CSC ID Registration

CSC Centre एक ऐसा केंद्र है जिसके द्वारा केंद्र सरकार की सुविधाओं को आम लोग तक पहुंचाया जाता है | CSC Centre का मतलब है Common Service Centre यानी जन सेवा केंद्र जहा पर कई तरह के डाक्यूमेंट्स बनाये जाते है और अन्य कई तरह के सरकारी काम किये जाते है | कॉमन सर्विस सेंटर किसी भी रेजिस्ट्रेड विलेज लेवल इंटरप्रेन्योर द्वारा चलाया जाता है | अब कोई भी व्यक्ति अपना  CSC Centre खोल  सकता है इसके लिए  जिस व्यक्ति के पास जरुरी डिजिटल उत्पाद उपलब्ध है तथा वो पात्रता की शर्तो को पूरा करता हो |

CSC Digital Seva Registration

कॉमन सर्विस सेंटर  खोलने के लिए आवेदन करने वाले लाभार्थी की  आयु 18 साल से अधिक होनी चाहिए | CSC Centre Registration की प्रक्रिया को ऑनलाइन पर दिया गया है देश के जो इच्छुक लाभार्थी अपने नज़दीकी जन सेवा केंद्र खोलना चाहते है तो वह  डिजिटल सेवा केंद्र 2020 की Official Website पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है और आगे भविष्य में इसका लाभ उठा सकते है |प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में माध्यम से बताने जा रहे है कि आप किस प्रकार CSC centre खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कर सकते है |

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

जन सेवा केंद्र नए आवेदन- CSC Centre

VLE एक ऐसी जगह है जो अपने आउटलेट के माध्यम से उपभोक्ताओं को अंतिम सीमा तक सरकारी गैर- सरकारी सेवाएँ प्रदान करती है वीएलई में रजिस्ट्रेशन के लिए शुल्क नही लगता ये निशुल्क है। कुछ समय पहले तक VLE रजिस्ट्रेशन बंद किये गए थे लेकिन अब CSC ऑनलाइन पोर्टल में वीएलई ( ग्राम स्तरीय उद्यमीय ) के लिए अब रजिस्ट्रेशन चालू कर दिया गया है। CSC की तरफ से वीएलई कोड के माध्यम से नए आवेदन मांगने शुरू कर दिए गए हैं , ज्यादा जानकारी के लिए आप अपने डिस्ट्रिक्ट मैनेजर से संपर्क कर सकते है।

CSC Centre पंजीकरण का उद्देश्य

आज भी बहुत से ऐसे लोग है जिनको अपने आप कोई भी काम ऑनलाइन करने में बहुत कठिनाई होती है या वह अपना  काम सटीक ढंग से नहीं कर पाते  वह लोग थोड़ी सी फीस देकर जन सेवा केंद्र में जारकर करवा सकते है | CSC सेंटर के जरिये देश के लोगो को सभी आवश्यक सेवाओं का लाभ प्रदान करना |जन सेवा केंद्र के द्वारा सस्ती लागत और आसान तरीके से नागरिको को सरकारी निजी और सामाजिक क्षेत्र की सेवाओं को प्रदान  करना और देश को डिजिटल बनाना |

सीएससी पंजीकरण के प्रकार

वर्तमान में CSC में तीन प्रकार के पंजीकरण हो रहे हैं, तीनों पंजीकरण के बारें में यहाँ बताया गया है

  • सीएससी VLE
  • SHG स्वयं सहायता ग्रुप
  • RDD (ग्रामीण विकास विभाग)

SHG स्वयं सहायता ग्रुप

स्वयं सहायता समूह ( SHG ) एक वित्तीय मध्यस्थ समिति होती है जो आमतौर पर 10 से 20 स्थानीय या ग्रामीण महिलाओं या पुरुषों से बना होता है। स्वयं सहायता समूह ऐसे लोगों का एक समूह है जो दैनिक मजदूरी पर हैं, वे एक समूह बनाते हैं और उस समूह से एक व्यक्ति धन इकट्ठा करता है और उस व्यक्ति को धन देता है जो जरूरतमंद है। सीएससी के अंतर्गत स्वयं सहायता समूह ( SHG ) की एक केटेगरी बनाई गयी है कोई स्वयं सहायता ग्रुप अगर अपने क्षेत्र में csc सेंटर खोलना चाहता है तो उनके लिये अभी पंजीकरण चालू है उनको अपने समूह के पंजीकरण नम्बर के माध्यम से आवेदन करना होगा आवेदन करने की प्रक्रिया एक जैसे ही है।

CSC Registration For RDD

CSC में आरडीडी के अंतर्गत केवल सरकारी पंजीकृत संगठन आरडीडी में रजिस्ट्रेशन करने के पात्र है। इस केटेगरी में कोई व्यक्ति विशेष आवेदन नहीं कर सकता है।

Common Service Centre में प्रदान की जाने वाली सुविधाएं

 Common Service Centre 2020  में बहुत सी ऐसी सुविधाएं जो देश के नागरिको को प्रदान की जाती है और उनकी हर  परेशानी  को दूर किया जाता है हमने विस्तार पूर्वक नीचे सुविधाओं के नाम लिखे है आप उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ सकते है |और उन सुविधाओं का लाभ कॉमन सर्विसेज सेंटर में जाकर उठा सकते है |

  • बीमा सेवाएं
  • पासपोर्ट
  • एलआईसी
  • एसबीआई
  • पेंशन सेवाएं
  • बैंकिंग
  • आधार सेवाएं
  • एलईडी एमएसयू
  • कौशल विकास
  • चुनाव
  • बिजली बिल भुगतान
  • रेलवे टिकेट
  • शिक्षा
  • स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं
  • नयी सेवाएं
  • जातिप्रमाण पत्र बनवाने की
  • निवास  प्रमाण पत्र

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 

जन सेवा केंद्र पंजीकरण

जन सेवा केंद्र दूर दराज़ के ग्रामीण इलाको में रहने वाले लोगो  को डिजिटल सुविधाएं प्रदान करने के लिए  केंद्र सरकार की अनुमति से खोला जाता है | यह CSC केंद्र हर एक गांव  और शहर में खोला जा सकता है |कॉमन सर्विस सेंटर योजना डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के अंतर्गत एक योजना है |यह कॉमन सर्विस सेंटर भारत के हर राज्य में चल रहे है और स्वास्थ्य ,उपयोगिता भुगतान ,शिक्षा ,कृषि तथा वित्तीय सेवाओं ,बी 2 सी सेवाओं ,जी 2 सी सेवाओं आदि क्षेत्र में सेवाएं प्रदान कर रहे है |CSC ऑनलाइन पंजीकरण के लिए कोई शुल्क नहीं है |

 New CSC ID Registration

डिजिटल सेवा केंद्र पंजीकरण करवाने वाले लाभार्थियों की न्यूनतम शेक्षित योग्यता 10 वी पास होनी चाहिए |देश का कोई भी व्यक्ति कॉमन सर्विस सेंटर के वेब पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है  उन्हें CSC ID दी जाएगी जिसकी सहायता से वह लोग  अपने क्षेत्र में जन सेवा केंद्र खोल सकते है | देश के लोग अपना सर्विस सेंटर खोलकर अच्छी कमाई कर सकते है |

TEC Certificate Number

देश के जो लोग सीएससी सेंटर खोलना चाहते है तो उन्हें एक TEC प्रमाणपत्र प्राप्त करना होगा। आपके पास TEC प्रमाणपत्र है तभी आप CSC Kendra में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। एक TEC प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए आपको ऑनलाइन परीक्षा देनी होगी। परीक्षा के उम्मीदवार अपने टीईसी (टेलीसेंटर एंटरप्रेन्योर कोर्स) प्रमाणपत्र को उपयोगकर्ता नाम या पासवर्ड के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। सीएससी VLE पंजीकृत उम्मीदवार TEC की परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा।  टीईसी पंजीकरण की प्रक्रिया  आधिकारिक वेबसाइट  के माध्यम से ऑनलाइन है, और जो व्यक्ति इस परीक्षा को देना चाहते है वह ऑनलाइन मोड में कहीं भी या अपने घर पर परीक्षा दे सकते है  टीईसी परीक्षा बहुत आसान है, इसे 10 मूल्यांकन पूरा करना होगा।

आप टीईसी प्रमाणपत्र संख्या के साथ सीएससी वीएलई पंजीकरण कर सकते हैं,  सीएससी आईडी या पासवर्ड टीईसी सर्टिफिकेट नंबर के माध्यम से उपलब्ध होगा। टीएससी सर्टिफिकेट ऑनलाइन परीक्षा के 3 से 4 दिन बाद उपलब्ध होगा।

सीएससी शिक्षा

  • लर्न इंग्लिश
  • Nielit facilation Center
  • टैली Certified Programme
  • टैली कौशल प्रमाण पत्र
  • CSC Olympiad
  • इंट्रोडक्शन to GST
  • CSC एकेडमी
  • NDLM
  • साइबरग्राम योजना
  • नाबार्ड वित्तीय लिट्रेसी प्रोग्राम
  • लीगल लिट्रेसी प्रोग्राम
  • CSC Topper Service
  • स्कील सेंटर
  • CSC BCC Course

सीएससी फाइनैंशल सर्विसेज

  • CSC ग्रामीण ई स्टोर
  • डिजिटल फाइनेंस Inclusion, Awareness & Access
  • स्किल डेवलपमेंट
  • CSC as A GST सुविधा प्रोवाइडर
  • बैंकिंग – Rd , Fd , Money ट्रांसफर, Ekyc
  • इंश्योरेंस सर्विस
  • पेंशन सेवाएं
  • प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना (PMFBY)
  • CSC VlE बाजार – Rural E-Commerce Venture

कस्टमर सर्विस सीएससी

  • मोबाइल रिचार्ज
  • D2H रिचार्ज
  • मोबाइल बिल पेयमेंट
  • CSC रजिस्ट्रेशन स्टेटस
  • सीएससी सर्विस राज्यवार
  • महात्मा गाँधी सेवा केंद्र परियोजना
  • All-State SHG List with SHG ID
  • लोहिया स्वच्छ बोहार अभियान
  • बिहार शौचालय ऑफलाइन फॉर्म
  • बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकारी अधिनियम

सीएससी यूआईडीएआई सर्विसेज

  • नया आधार रजिस्ट्रेशन (State and District Office Only)
  • आधार प्रिंट
  • मोबाइल नंबर प्रिंट
  • निवास पता चेंज
  • ईमेल अपडेट
  • आधार अपडेट और करेक्शन
  • सी एस सी एग्रीकल्चर सर्विसेज
  • CSC Pm किसान बैंक अकाउंट अपडेट फॉर्म डाउनलोड
  • CSC Pm Kisan Correction Edit Aadhaar Card Details
  • पीएम किसान न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन
  • पीएम किसान बेनिफिशरी स्टेटस
  • pm किसान लिस्ट
  • अप्लाई CSC सेंटर ऑनलाइन 2020

सीएससी बैंकिंग सर्विसेज

  • मानधन पोर्टल
  • आईसीआईसीआई बैंक बीसी
  • एक्सिस बैंक बीसी
  • CSC Digipay Aadhaar Atm Latest Version
  • NPS
  • CSC शुभलाभ खाता प्लान NPS सर्विस
  • न्यू अकाउंटिंग ओपनिंग
  • csc बैंक बीसी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस
  • Rap Exam Modules Hindi and English Download

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पोर्टल

  • आधार UCL रजिस्ट्रेशन 2020
  • कार लोन
  • क्रेडिट कार्ड
  • एचडीएफसी लोन बीसी
  • एसबीआई बैंक बीसी
  • सीएससी डिजिटल सेवा सर्विस
  • डिस्ट्रिक मैनेजर मोबाइल नंबर
  • CSC लोकेटर
  • VlE CSC प्रोफाइल अपडेट
  • CSC सर्टिफिकेट डाउनलोड
  • डिजिटल सेवा पोर्टल सीएससी
  • सीएससी इंश्योरेंस सर्विस
  • लोन सर्विस CSC
  • CSC इकनॉमिक Census Services
  • CSC बैंकिंग पोर्टल/बैंक बीसी

सीएससी हेल्प सर्विसेज

  • हेल्थ होम्यो
  • TeleMedicine – TeleHealth Consultations
  • Tele-Medicine Remote Diagnostic Kit- Control H
  • थायरोकेयर
  • CSC डायग्नोस्टिक सेण्टर
  • प्रधानमंत्री जन औषधि स्टोर स्कीम
  • जीवा आयुर्वेदिक स्कीम
  • CSC रजिस्ट्रेशन स्टेटस
  • 3 Nehtra Kits

CSC  Centre बनाने के लिए अनिवार्य गैजेट कौन से है 

  • 2 या 2 से अधिक कंप्यूटर
  • कंप्यूटर की हार्ड डिस्क 500 जीबी या उससे अधिक हो
  •  और उनकी रेम 1 जीबी या उससे अधिक
  • लाइसेंस युक्त ऑपरेटिंग सिस्टम
  • बैटरी बैक अप 4 घंटे या उससे अधिक होना चाहिए
  • एक प्रिंटर
  • एक स्केनर
  • वेब कैमरा और डिजिटल कैमरा

जन सेवा केंद्र पंजीकरण 2020  के दस्तावेज़

  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • जिस क्षेत्र में अपने सेण्टर खोलना है आप उसी क्षेत्र के होने चाहिए
  • आपके पास एक वैध नंबर होना चाहिए
  • मान्य प्राप्त बोर्ड से 10 वीं तक की परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है
  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • ईमेल आईडी
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • शेक्षित योग्यता के दस्तावेज़
  • न्यूनतम 10 पास की मार्कशीट
  • पते का प्रमाण
  • पेन कार्ड की कॉपी
  • CSC केंद्र की तस्वीर

CSC Centre ऑनलाइन पंजीकरण 2020 कैसे करे?

जो इच्छुक लाभार्थी इस  CSC Centre खोलने के लिए आवेदन करना चाहते है तो नीचे दिए गए तरीके का पालन करे |

  • सर्वप्रथम  आवेदक को CSC CENTRE को official Website पर जाना होगा Official Website  पर जाने के बाद आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर होम पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको New VLE Registration पंजीकरण का ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करना होगा
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा जिस पर आपको पूछे गए सभी विवरण जैसे नाम ,आधार नंबर ,मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड आदि भरना होगा |
  • सभी जानकारी भरने के बाद सब्मिट के बटन पर क्लिक करना  होगा | इसके बाद अगला पेज खुल जायेगा फिर आपको कियोस्क टैब पर क्लिक करना होगा और कियोस्क और व्यक्तिगत विवरण जैसे नाम ,पता, बैंक खाता,शिक्षा दस्तावेज़ आदि भरना होगा|
Digital seva kendra
  • फिर सभी विवरण को भरने के बाद अगले बटन पर क्लिक करना होगा |
  • इसके पश्चात् बैंकिंग डिटेल्स जैसे खाता धारक का नाम, आईएफएससी कोड,शाखा का नाम आदि भरे
CSC Centre
  • इसके बाद आपको आवश्यक दस्तावेज़ों को पेन कार्ड ,आधार कार्ड ,बैंक खाता पासबुक ,और सीएससी सेंटर की फोटो को आवश्यक क्षेत्रो में जेपीआर प्रारूप में अपलोड करे |सभी दस्तावेज़ों को अटैच करने के बाद नेक्स्ट बटन अगेन पर क्लिक करे
Application Form CSC Centre
  • फिर आवेदक को बुनियादी सुविधाओं का विवरण भरना होगा | इसके बाद आखिर में आवेदक को पात्र की समीक्षा करनी होगी और भरे हुए विवरण की जांच करनी होगी फिर पुष्टि करे या सबमिट करे के बटन पर क्लिक करना होगा |
Digital seva kendra
  • आवेदन पत्र के अंतिम रूप से जमा करने के बाद उन्हें पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान प्रदान की गयी ईमेल आईडी पर आवेदन पत्र के बारे में एक पावली ईमेल प्राप्त होगा |
CSC Centre

सीएससी केंद्र ऑनलाइन पंजीकरण (CSC Centre) स्थिति की जांच कैसे करे?

जो इच्छुक 
लाभार्थी अपने किये गए ऑनलाइन आवेदक की स्थिति की जांच करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके का पालन करे |

  • सबसे पहले आवेदक को सीएससी केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा | आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको Application Status का ऑप्शन दिखाई देगा |
  • इस विकल्प पर क्लिक करना होगा इसके बाद आपको अपना सभी आवश्यक विवरण जैसे आधार नंबर ,नाम प्रमाणीकरण प्रकार भरे |
  • इसके बाद कैप्चा कोड भरना होगा फिर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा | इसके बाद आपके सामने आवेदन की स्थिति आ जाएगी और आप अपना नाम जांच सकते है |

CSC Portal  पर लॉगिन कैसे करे ?

  • सबसे पहले आपको डिजिटल सेवा केंद्र की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
डिजिटल सेवा केंद्र
  • इस होम पर आपको लॉगिन का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा | ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा |
डिजिटल सेवा केंद्र
  • आपको इस फॉर्म में यूजरनाम और पासवर्ड डालना होगा | फिर आपको Sign in के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • बटन पर क्लिक करने के बाद आपका लॉगिन हो जायेगा और आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा जिस पर आपको सीएससी  केंद्र में प्रदान की जाने वाली सारी सुविधाएं आ जाएगी |

सीएससी में TEC सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

  • सबसे पहले आपको टेलीसेंटर एंटरप्रेन्योर कोर्स (TEC) की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।  ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
CSC Digital Seva
  • इस होम पेज पर आपको Public User के नीचे रजिस्टर का ऑप्शन दिखाई देगा।  आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।
डिजिटल सेवा केंद्र
  • फिर आपको इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,मोबाइल नंबर ,ईमेल आईडी स्टेट ,डिस्ट्रिक्ट , एड्रेस आदि भरनी होगी। सभी जानकारी भरने के बाद आपको अपनी फोटो को अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। सबमिट के बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने भुगतान पेज खुल जायेगा इस पेज पर आपको ऑनलाइन 1479 शुल्क का भुगतान करना होगा। शुल्क का भुगतान  डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग, UPI आदि के माध्यम से संसाधित किया जाएगा।
  • अब आपको एक यूजर आईडी मिलेगी। आपका पासवर्ड मोबाइल नंबर होगा। अब आपको यूजर ID और Password का उपयोग कर लॉग इन करना होगा। अब सीखने के लिए Learning Page जाएं और सभी मॉड्यूल का अध्ययन करें।
  • मॉड्यूल पूरा करने के बाद परीक्षा पर क्लिक करें। सभी परीक्षाओं को क्लियर करना होगा। परीक्षा पूरी करने के बाद आपको अपना प्रमाणपत्र नंबर मिलेगा।

एप्लीकेशन रिप्रिंट करने की प्रक्रिया

CSC Digital Seva
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको एप्लीकेशन रेफरेंस नंबर और कैप्चा कोड भरकर सबमिट करना होगा।
  • आपका एप्लीकेशन फॉर आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।
  • आप इस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

यूआईडी टोकन अपडेट करने की प्रक्रिया

CSC Digital Seva
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको वीआईडी नंबर, सीएससी आईडी तथा कैप्चा कोड भरकर सबमिट करना होगा।
  • अब आप यूआईडी टोकन अपडेट कर सकते हैं।

क्रेडेंशियल्स देखने की प्रक्रिया

CSC Digital Seva
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुल कर आएगा जिसमें आपको अपनी सीएससी आईडी भरनी होगी और कैप्चा कोड भरना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे आपकी क्रैडेंशियल्स आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होंगे।

सीएससी री रजिस्ट्रेशन 2020

सभी vle के लिए सीएससी रजिस्ट्रेशन कराना महत्वपूर्ण है। आपको बता दें कि सीएससी रजिस्ट्रेशन एक बार करवाने के बाद आपको हर साल इस रजिस्ट्रेशन को रिन्यू करवाना होता है। रजिस्ट्रेशन रिन्यू करवाने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और वहां से सीएससी रजिस्ट्रेशन दोबारा से करवाना होगा। यदि आप किसी कारणवश री रजिस्ट्रेशन एक साल।के बाद नहीं करवाते हैं तो इस स्थिति में आप कॉमन सर्विस सेंटर नहीं चला सकते।

सीएससी रजिस्ट्रेशन में ऑपरेटर कैसे जोड़े ?

आपको बता दे की सीएससी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है लेकिन सीएससी रजिस्ट्रेशन करने का एक और तरीका है जिससे की आप कुछ ही समय में csc का पासवर्ड और आईडी प्राप्त कर सकते है और सीएससी में रजिस्ट्रेशन कर सकते है। इसके लिए आपको ऐसे व्यक्ति की आवशकता होगी जिसके पास पहले से ही csc की आईडी और पासवर्ड होगा। पर इस तरीके से सीएससी सेंटर लेने के लिए आपको अपने गाँव ,ब्लाक ,जिला या फिर राज्य के किसी csc संचालक से भी बात करनी होगी की वो अपनी आईडी पर ऑपरेटर के तौर पर जोड़ दें। एक ओपरेटर के तौर पर csc से जुड़ने पर आपको कुछ ही मिनट में आपको अपनी आईडी और पासवर्ड मिल जायेगा और आप उन सभी सर्विस पर काम कर पाएंगे जो कोई csc संचालक करता है।

CSC Centre Digital Seva Direct Links

सीएससी डिजिटल सेवा महत्वपूर्ण लिंक्स

Helpline Number

हमने अपने इस लेख में सीएससी डिजिटल सेवा केंद्र से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको प्रदान की है। यदि आप अभी भी किसी समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप सीएससी डिजिटल सेवा केंद्र के टोल फ्री नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। सीएससी डिजिटल सेवा केंद्र का टोल फ्री नंबर 18001213468 है तथा ईमेल आईडी helpdesk@csc.gov.in है।

UAN Activate Kaise Kare, EPFO Portal से UAN रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन

Universal Account Number (UAN क्या) है | UAN Activate Kaise Kare | EPFO Portal | यूएएन रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन | EPF क्या है |

UAN को एक्टिवेट करने के लिए भारत सरकार ने EPFO पोर्टल को लॉन्च कर दिया है | EPFO का मतलब है Employees Provident Fund Organization इस पोर्टल के माध्यम से देश के लोग UAN लॉगिन करके अपनी पर्सनल डिटेल्स और EPF Balance को ऑनलाइन कर सकते है | UAN Activate के ज़रिये आप लोग अपना EPF बेलेन्स चेक कर सकते है और अपना EPF अकाउंट को कही से भी ऑनलाइन मैनेज कर सकते है प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से ईपीएफओ पोर्टल से UAN रजिस्ट्रेशन और एक्टिवेशन की प्रक्रिया बताने जा रहे है |

Universal Account Number (UAN क्या) है

UAN का पूरा नाम Universal Account Number .यह एक यूनिक नंबर है जिसकी सहायता से कोई भी व्यक्ति अपने EPF Account को ऑनलाइन संचालित कर सकते है और EPF  में UAN लॉगिन कर सकते है | EPF को काम को करने के लिए एक खाते की आवश्यकता होती है EPF से जुड़े सभी काम इसी खाते के द्वारा किये जाते है | UAN employees  के EPF खाते का नंबर होता है | जिसमे employees के पैसे जमा होते है | सभी व्यक्तियों का Universal Account Number अलग अलग होता है |

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड

EPF क्या है

EPF की योजना अक्टूबर 2018 को शुरू की गयी है EPF का पूरा नाम employees Provident Fund है |जो लोग कम्पनियो ,हॉस्पिटल्स ,,स्कूल आदि में काम करते है तो कर्मचारी भविष्य निधि के तहत उनकी महीने की आय में से कुछ हिस्से को भविष्य के लिए सुरक्षित रखा जाता है | यह काम कंपनी के HR डिपार्टमेंट का होता है HR Department  आपका EPF Account खोलेगा  और UAN नंबर और पासवर्ड आपको  प्रदान करेगा | आज के समय में यह पूरे भारत में लागू कर दिया गया है | कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) कई सेवाएं ऑनलाइन ऑफर करता है. इन सेवाओं को इस्तेमाल करने के लिए ईपीएफओ के सदस्य का यूएएन एक्टिव होना चाहिए |

UAN
Activate
होना क्यों ज़रूरी है

अब लोगो को EPF खाते में पैसे जमा करने के लिए EPF  ऑफिस आने की आवश्यकता नहीं है अब आपकी कंपनी में HR Department यह काम करेगा | अब आपको किसी भी तरह की परेशानी नहीं उठानी नहीं पड़ेगी अब आप आसानी से अपनी सैलरी का कुछ पैसे  HR डिपार्टमेंट के द्वारा जमा करवा सकते है | अब आप ऑनलाइन माध्यम से अपना UAN Activate और रजिस्ट्रेशन कर सकते है | UAN NUMBER के ज़रिये आप अपनी EPF  की राशि की भी जानकारी प्राप्त कर सकते है और आपके खाते में कितने पैसे है इसका भी पता कर सकते है |

प्रधानमंत्री आवास योजना

यूएएन एक्टिवेट करने के बाद मिलने वाली सुविधाएं

  • ईपीएफ पासबुक डाउनलोड
  • प्रिंट अपडेटेड पासबुक
  • डाउनलोड यूएएन कार्ड
  • प्रिंट यूएएन कार्ड
  • केवाईसी जानकारी अपडेट करने की सुविधा
  • पीएफ विड्रोल

UAN Activate
or Registration
करने के लिए ज़रूरी चीज़े

  • Registred  Mobile Number- जो मोबाइल नंबर आपने HR डिपार्टमेंट में EPFO  रजिस्ट्रेशन के समय दिया था और वह चलता हुआ नंबर होना चाहिए |
  • UAN – आपके पास UAN  का होना ज़रूरी है जिसके द्वारा ही आप Uan एक्टिव कर सकते है | यदि आपके पास Uan नंबर नहीं है तो अपने HR Departement से जाकर ले सकते है

UAN एक्टिवेशन और रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

देश के जो लोग अपने UAN  को एक्टिवेट और रेजिस्टशन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके का पालन करे | UAN  एक्टिवेशन के तीन तरीके है |

पहला तरीका

  • सर्वप्रथम आपको EPFO की Official Website पर जाना होगा |ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इस पेज पर आपको नीचे Important  link के अंदर Activate UAN  का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर क्लिक करे | विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप नए पेज पर रेडिरेक्ट होंगे जहा एक फॉर्म खुलेगा |
  • इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे आवेदक का नाम ,पता ,डेट ऑफ़ बर्थ ,मोबाइल नंबर आदि भरना होगा |
UAN Activate
  • यदि आपके पास UAN नहीं है तो आप पैन नंबर या आधार नंबर का उपयोग कर सकते है और मोबाइल नंबर के बॉक्स में रेजिस्ट्रेड मोबाइल नंबर का ही उपयोग कर सकते है और वह आपके पास सक्रीय होना चाहिए |
  • फॉर्म में सभी जानकारी सही सही भरने के बाद नीचे Get Authorization Pin पर क्लिक करना होगा | इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप अगले पेज पर आ जायेगे जहा आपको EPFO के tarm and conditions को स्वीकार करके मोबाइल पर आय OTP को भरना होगा |
  • इस OTP को OTP बॉक्स में भरकर Validate OTP and Activate UAN पर क्लिक करना होगा | अगर आपको अगले पेज पर आपका UAN एक्टिवेट हो गया है या आपका UAN    पहले से एक्टिवेट है |
  • दोनों ही परिस्तिथियों में आपका UAN एक्टिवेट हो गया है और आप अपने UAn के द्वारा EPFO की सभी सेवाओं का लभ ले सकते है |

दूसरा तरीका

मोबाइल एप्लीकेशन के द्वारा UAN एक्टिवेट कैसे करे

  • सर्वप्रथम आपको अपने एनरोइड फ़ोन के प्ले स्टोर पर जाना होगा इसके बाद गूगल प्ले स्टोर को खोलने के बाद आपको EPFO की  मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करके इनस्टॉल करनी होगी |
  • EPFO को इन्टॉल करने के बाद आपको एप्लीकेशन को खोलना होगा फिर आपके सामने एक पेज खुल जायेगा जिस पर आपको member का विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा |
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके आमने एक नया पेज खुल जायेगा जहा आपको activate  UAN  का ऑप्शन दिखाई देगा इस पर आपको क्लिक करना होगा |
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा फिर आपको इसमें पूछी गयी सभी जानकारी जैसे एम्प्लॉएंस नंबर ,EPF नंबर UAN नंबर आदि भरना होगा |
  • फॉर्म में सभी जानकरी भरने के पश्चात् आपको आगे बढ़ना होगा इसके पश्चात् अगले पेज पर आपको OTP भरना होगा जो आपके मोबाइल फ़ोन पर आएगा | OTP भरने के बाद आपका UAN एक्टिवेट हो जायेगा |

तीसरा तरीका

SMS के माध्यम से

UAN  को एक्टिवेट करने के लिए यह बहुत ही आसान तरीका है एक Msg  के द्वारा ही आप अपना UAN एक्टिवेट कर सकते है आप नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करे |

  • सर्वप्रथम आपको अपने मोबाइल फ़ोन में जाकर MASSAGE के ऑप्शन पर जाना होगा | इसके बाद आपको msg में EPFOHO ACT ,<< 12 Digit का UAN Number >>,22 Digit की EPFO  Member ID >>
  • यह msg को लिखने के बाद आपको इस नंबर 7738299899 पर सेंड करना होगा | जब EPFO आपके msg को रिसीव कर लेंगे आपको एक confirmation message आ जायेगा |
  • यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद जल्द ही आपका UAN एक्टिवेट हो जायेगा |

पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होने पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अपना यूएएन, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको साइन इन के बटन पर किस करना होगा।
  • इस प्रकार आप पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

यूएएन का स्टेटस कैसे चेक करे ?

जो इच्छुक लाभार्थी अपने यूएएन का स्टेटस चेक करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम आगे पर आपको इम्पोर्टेन्ट लिंक के सेक्शन में से Know Your UAN का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
UAN Activate
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड आदि भरना होगा
  • और फिर Request OTP के बटन पर क्लिक करना होगा। और फिर आपको OTP भरना होगा और फिर सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने यूएएन का स्टेटस का जायेगा।

कर्मचारियों द्वारा प्रत्यक्ष यूएएन आवंटन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इस होम पेज पर  आपको  Direct UAN Allotment by Employees का ऑप्शन दिखाई देगा।
UAN Activate
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड आदि भरना होगा।
  • इसके बाद आपको जेनेरेट OTP के बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको मोबाइल एक otp आएगा। उसके बाद आपके सामने कर्मचारियों द्वारा प्रत्यक्ष यूएएन आवंटन आ जायेगा।

अपडेटेड पासबुक प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सबसे आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होने पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको डाउनलोड/प्रिंट अपडेटेड पासबुक के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको डाउनलोड के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अपडेटेड पासबुक आपकी स्क्रीन पर होगी।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

यूएएन कार्ड डाउनलोड/प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होने पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अपना आईडी पासवर्ड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको डाउनलोड/प्रिंट योर यूएएन कार्ड के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको डाउनलोड के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • यूएएन कार्ड आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

केवाईसी इंफॉर्मेशन अपडेट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होने पेज खुल कर आएगा।
  • अब आपको पोर्टल पर लॉग इन करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपडेट योर केवाईसी इनफॉरमेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप केवाईसी इंफॉर्मेशन अपडेट कर सकते हैं।

एक्जिस्टिंग पीएफ अकाउंट के लिए यूएएन अलॉटमेंट

एक्जिस्टिंग पीएफ अकाउंट
  • इसके बाद आपके मोबाइल फोन पर एक ओटीपी आएगा जिससे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी मेंबर डीटेल्स दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको यूएन एलॉटमेंट/लिंकिंग से संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप एक्जिस्टिंग पीएफ अकाउंट के लिए यूएएन एलॉट कर पाएंगे।

यूएएन से आधार लिंक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होने पेज खुल कर आएगा।
  • अब आपको पोर्टल पर लॉग इन करना होगा।
  • अब आपको केवाईसी के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको आपको आधार के सामने टिक करना होगा तथा आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सेव के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको आवेदन केवाईसी पेंडिंग अप्रूवल लिखा हुआ दिखाई देगा।
  • यूआईडीएआई द्वारा आपकी आधार की जानकारी को मंजूरी दी जाएगी।
  • इसके बाद आपकी कंपनी के नाम के आगे अप्रूव्ड बाय इस्टैब्लिशमेंट लिखा हुआ आ जाएगा।
  • और आधार कार्ड के आगे वेरीफाइड बाय यूआईडीएआई लिखा हुआ आ।
  • इस प्रकार आपका आधार लिंक हो जाएगा।

Contact Information

हमने अपनी इस लेख के माध्यम से यूएएन एक्टिव करने की प्रक्रिया की संपूर्ण जानकारी आपको प्रदान कर दि है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल लिखकर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर तथा ईमेल आईडी कुछ इस प्रकार है।

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY): Apply Online, Eligibility

PM Matsya Sampada Yojana Online | Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana Apply Online | PMMSY Application form | PMMSY Eligibility

In this article today we will share with you all the important specifications of the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana. In this article, we will share with you the important specification related to the scheme such as the implementation procedure, an incentive available, and all of the other benefits that will be provided to the beneficiaries of the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana. We will also talk about the eligibility criteria which need to be undertaken to apply for the scheme for all of the residence of India.

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana Launched

On 10th September 2020 PM, Narender Modi has officially launched the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana through video conferencing in the presence of the Governor and Chief Minister of Bihar, along with Union Minister and MoS for Fisheries, Animal Husbandry & Dairying. During the period 2020-2021 to 2024-2025 estimated investment of Rs. 20,050 crores are going to be done by the Government for this scheme. Out of which Rs 12340 crores is proposed for beneficiary-oriented activities in Marine, Inland fisheries and Aquaculture, and about Rs. 7710 crores for Fisheries Infrastructure. The major aim of the government behind the scheme is

  • Enhancing fish production by an additional 70 lakh tonne till 2024-25,
  • Increasing fisheries export earnings to Rs.1,00,000 crore,
  • Doubling of incomes of fishers and fish
  • Reducing post-harvest losses from 20-25% to about 10%
  • Generation of additional 55 lakhs direct and indirect gainful employment opportunities in the fisheries sector and allied activities farmers,

PM Matsya Sampada Yojana

The
Finance Minister Nirmala Sitharaman reported Rs 20,000 Crore Scheme, under
Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana. It is to address basic framework holes
for the fisheries area. This uplifting news comes as a piece of the third
tranche of financial changes. Out of this, Rs 11,000 crore will be spent on
exercises in marine, inland fisheries and aquaculture. In any case, Rs 9000
crore will be utilized to assemble foundation, such as angling harbours and cold
chain.

आत्मनिर्भर भारत अभियान

Details
Of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana

Name
Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana
Launched
by
Government of India
Beneficiaries
Fishermen
Objective
Improving fishing channels and supporting
fisherman
Official
Website
http://dof.gov.in/pmmsy

PMMSY- Bihar

A total investment of Rs.1390 crore with Central Share of Rs. 535 crores to complete the additional fish production target pegged at 3 lakh tons. State Government has sanctioned for current financial year project cost of Rs.107.00 crore for major components like

  • Establishment of Re-circulatory Aquaculture System (RAS),
  • Construction of Biofloc ponds for aquaculture,
  • Finfish hatcheries,
  • Construction of new ponds for aquaculture,
  • Ornamental fish culture units,
  • Installation of Cages in reservoirs/wetlands,
  • Ice plants,
  • Refrigerated vehicles,
  • Motor cycle with ice box,
  • Three-wheeler with ice box,
  • Cycle with ice box,
  • Fish feed plants,
  • Extension and support services (Matsya Seva Kendra),
  • Establishment of a Brood Bank, etc.

Other inaugurations related to Fisheries sector

  • Establishment of Fish Brood Bank at Sitamarhi,
  • Establishment of Aquatic Disease Referral Laboratory at Kishanganj.
  • Inaugurate One-unit fish feed mill at Madhepura under Blue Revolution.
  • Inaugurate Two units of ‘Fish on Wheels’ assisted at Patna under the Blue Revolution.
  • Inaugurate the Comprehensive Fish Production Technology Centre at Dr. Rajendra Prasad Central Agricultural University, Pusa, Bihar.

Benefits Of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana

The target of the plan is to enhance or increment horticulture, modernize handling and abatement agrarian waste, and to use the potential in the fishery area. The administration proposed the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY) to build up a powerful fishery board structure and check holes in the worth chain. The government has clarified that ‘Blue Revolution’ or ‘Neeli Kranti’ can possibly achieve the primary spot on the planet in fish creation. It incorporates MoFPI’s plans, for example, Food Parks, Food Safety, and Infrastructure.

Components Of PMMSY

  • Central sector scheme
  • Centrally sponsored scheme

Implementation Of The Scheme

The government will have a spending plan of Rs. 6000 and is required to hold speculation of Rs. 31,400 crore. The treatment of around 334 lakh MT agro-produce esteeming Rs 1 lakh 4 thousand 125 crores. Around 2 million ranchers will have an advantage from the Matsya Sampada and will produce around 5 lakh 30 thousand immediate or backhanded work in the nation in 2019-2020. The administration has set an objective for fish creation and that is to accomplish the objective of 15 million tons by 2020 under the Blue Revolution and raise it to around 20 million tons by 2022-23.

Implementing Guidelines Of Matsya Sampada Yojana

Operational guidelines for the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana have been released by the authorities on 30th June, 2020. Investment for this scheme made by the central government is Rs. 9407 crores, by state government is Rs. 4,880 crore and Rs. 5763 crores will be the beneficiary’s contribution. Implementation guidelines are as follow:

  • For the implementation of the scheme Cluster or area-based approach will be used to get optimal outcomes with requisite forward and backward linkages and end to end solutions.
  • To enhance production and productivity, quality, productive utilization of wastelands and waters for Aquaculture various technologies like Re-circulatory Aquaculture Systems, Biofloc, Aquaponics, Cage Cultivation etc. will be used.
  • In Brackish Water and Saline Areas, a special focus will be on Coldwater fisheries development and expansion of Aquaculture
  • To generate huge employment opportunities, activities like Mariculture, Seaweed cultivation and Ornamental Fisheries would be promoted
  • With area-specific development plans development in Jammu and Kashmir, Ladakh, Islands, Northeast, and Inspirational Districts focus would be given for fisheries
  • Coastal fisher community’s development would be done in a holistic manner by integrated modern coastal fishing villages with the necessary infrastructure in this scheme
  • To increase the bargaining power of fishers and fish farmers Collectivization would be done through Fish Farmer Producer Organizations
  • Aquaparks would be developed under the scheme as the hub of multifarious fisheries activities/facilities
  • Establishment of Fisheries Incubation Centres (FICs) both through government and private sector would be supported under PMMSY
  • Scheme aim is to build requisite convergence with Department of Agriculture Research and Education (DARE) and ICAR to strengthen Research and extension support services
  • Duringban/lean period Annual Livelihood support would be provided to fishers etc.

Objective Of The Scheme

The objective of the Matsya Sampada Yojana are given below in the following list:-

  • This scheme will improve the current framework of the chain from ranch entryway to retail outlet.
  • PMMSY will expand the development of food preparing part in the nation.
  • It will build GDP, Employment and venture.
  • this Scheme help in decreasing the gigantic wastage of horticulture items.
  • It will help in giving better costs to ranchers and twofold their salary.
  • Saddling of fisheries potential in an economical, capable, comprehensive and evenhanded way
  • Improving fish creation and efficiency through development, heightening, broadening and beneficial use of land and water
  • Modernizing and reinforcing of meriting chain – post-reap the executives and quality improvement
  • Multiplying fishers and fish ranchers earnings and age of work
  • Improving commitment to Agriculture GVA and fares
  • Social, physical and financial security for fishers and fish ranchers
  • Active fisheries management and administrative structure

Beneficiaries Of Matsya Sampada Yojana

As a noun by the finance minister the scheme is open for the fishermen of the country and the main objective of the scheme is to improve the fishery compound in the country. All of the fishermen of the country are free to apply in this scheme.

As a noun by the finance minister the scheme is open for the fishermen of the country and the main objective of the scheme is to improve the fishery compound in the country. All of the fishermen of the country are free to apply in this scheme.

  • Fishers
  • Fish farmers
  • The Fish workers and Fish vendors
  • Fisheries Development corporations
  • Self Help Groups (SHGs)/Joint Liability Groups (JLGs) in fisheries sector
  • Fisheries cooperatives
  • Fisheries Federations
  • Entrepreneurs and private firms
  • Fish Farmers Producer Organizations/Companies (FFPOs/Cs)
  • SCs/STs/Women/Differently abled persons
  • State Governments/UTs and their entities including
  • State Fisheries Development Boards (SFDB)
  • Central Government and its entities

Impact Of The PMMSY

The
scheme will have the following impact on the overall community of fisheries in
India:-

  • The scheme will help in enhancing fish production from 137.58 lakh metric tons (2018-19) to 220 lakh metric tons by 2024-25.
  • The scheme will sustain average annual growth of about 9% in fish production
  • The scheme will help in boosting an increase in the contribution of GVA of the fisheries sector to the Agriculture GVA from 7.28% in 2018-19 to about 9% by 2024-25.
  • The scheme will double export earnings from Rs.46,589 crores (2018-19) to about Rs.1,00,000 crores by 2024-25.
  • The scheme will improve productivity in aquaculture from the present national average of 3 tonnes to about 5 tonnes per hectare.
  • The scheme will decrease the post-harvest losses from the reported 20-25% to about 10%.
  • The scheme will help in the improvement of domestic fish consumption from about 5-6 kg to about 12 kg per capita.
  • The scheme will create about 55 lakh direct and indirect employment possibilities in the fisheries sector along with the supply and value chain.

Registration Procedure

There is no specific registration procedure which is announced by the government of India to apply for the scheme but as soon as the detail application procedure is out we will inform you through this website only.

About e-Gopala App

e-Gopala App has also been launched at same time for farmers. With the help of e-Gopala app platform farmers can manage livestock including

  • Buying and selling of disease-free germplasm in all forms;
  • Availability of quality breeding services and guiding farmers for animal nutrition,
  • Treatment of animals using appropriate ayurvedic medicine/ethnoveterinary medicine.

Important Download

(Registration) AICTE PG Scholarship 2020-21: Apply Online at aicte-india.org

PG Scholarship AICTE Online Registration | AICTE PG Scholarship Application Form | Apply Online at aicte-india.org | AICTE PG Scholarship Benefits

A new scholarship scheme has been launched by the government of India to help all of the students who are correctly achieving their post-graduation degrees. In this article, we will share with all of you the details about the new AICTE PG Scholarship Scheme 2020-21 which has been launched by the concerned authorities of the organization. We will also share with all of you the step-by-step application procedure which has been mentioned in the new scholarship scheme launched by the concerned authorities of the Indian government. We will also share with you all the documents which are required to apply for a new scholarship scheme.

AICTE PG Scholarship 2020-21

The new scholarship scheme which has been launched by the post-graduation concerned authorities of the Indian government will be very beneficial to the people who are doing their master’s degree in various aspects of studies. Around 12400 rupees will be provided to all of the people who are currently going through the masters’ phase of their degrees. Many benefits will also be provided to the people who are continuing their studies amidst the coronavirus pandemic. Coronavirus pandemic has provided a lot of problems to the people who are now currently doing their studies.

Begum Hazrat Mahal Scholarship

Important Dates

The last date to apply for the scholarship is 31st December 2020.

Details Of AICTE PG Scholarship Scheme 2020-21

Name (Registration) AICTE PG Scholarship 2020-21
Launched by AICTE PG
Beneficiaries Post graduation students
Objective Providing 12400 rupees
Official site

Benefits Of AICTE PG Scholarship Scheme  2020-21

There will be a lot of benefits that will be provided through the implementation of this scholarship. Post-graduation students will be able to take part in different activities related to their studies because of the monetary help which will be provided. The government will be providing 12400 rupees in this scheme to the students currently studying their post-graduation. This help will also help the students to achieve their goals and objectives and to live a happy life while doing their studies and creating less and less pressure on their house. The students will be able to apply for the scholarship through the official website.

PFMS Scholarship

Implementation Procedure AICTE PG Scholarship 2020-21

The implementation procedure for the scholarship scheme is mentioned below in a step-by-step manner:-

  • First of all, the candidates will have to qualify the examination of GATE
  • The applicant will then have to fill up the application form for the scheme.
  • The institution will then approve the score of the examination
  • Record will be maintained of all of the applicants in a unique manner.
  • Verification will be done by the institution.
  • The decision of rejecting or approving the application will be lying with the institution.
  • The approved applications will then be forwarded to the PFMS portal.
  • The PFMS portal will then credit the amount to the bank account of the beneficiaries.

Eligibility Criteria

The applicant must follow the following eligibility criteria while applying for the recruitment:-

  • An applicant must have qualified GATE/GPAT to be eligible for the scholarship.
  • The applicant must not be any part of the part-time online courses.
  • An applicant bank account details must also match the original credentials of the applicant
  • The applicant must not have joint bank accounts to be eligible for the scholarship.
  • The applicant must have General savings account in any of the banks.
  • An applicant must be doing engineering, architect, or pharmacy.
  • The application must be admitted in the college after qualifying GATE/GPAT
  • The OBC category students are not eligible for the scholarship.
  • Candidates qualified under SC/ST/OBC (NCL)/Physically Handicapped not having authentic certificates are not eligible for GATE/GPAT scholarship.
  • scholarship will be provided when the classes of post-graduation will begin.
  • The GATE/GPAT scholarship will be disbursed for a maximum period of 24 months or till completion of courses/dates of submission of the thesis whichever is earlier.

Documents Required of AICTE PG Scholarship Scheme 2020-21

The following documents will be required while applying for the different scholarship scheme:-

  • Recent authentic non-creamy layer certificate[NCL] is required for OBC candidates (not more than 1-year old)
  • Documents in support of SC/ST/OBC (NCL)/Physically Handicapped certificate shall be attested by the institute principal or gazetted officer
  • SC/ST/OBC (NCL)/Physically Handicapped certificate should be in Hindi/English otherwise it should be translated and verified in Hindi/English by notary officer or by the principal in institute letter head. Student shall upload both original and translated certificate
  • All other attachments shall be self-attested by the candidate
  • Only clear and readable attachments shall be accepted as necessary attachments.

Stipend Amount

The following amount of scholarship will be provided to the beneficiaries:-

  • Students will get a monthly stipend of Rs. 12,400 per month for a duration of 2 years or till their course is completed, whichever happens, sooner.
  • In addition, students will also get an annual contingency grant of Rs. 20,000 as per the scholarship notification.

AICTE PG Scholarship Scheme 2020-21 Application Procedure

The applicant must follow the following application procedure while applying for the recruitment:-

AICTE PG Scholarship
  • The homepage of the scholarship will be displayed on your screen
  • Go to the option called Quick Links
  • You have to click on the option called PG Scholarship (GATE / GPAT)
  • You can also directly click on the link
AICTE PG Scholarship
  • A new web page will be displayed on your screen.
  • On the new window, you have to click on the option called Apply for PG Scholarship (GATE / GPAT)
  • You can also directly click on the link
  • The list of scholarships will be displayed on your screen.
  • You have to click on the option called Click here to proceed to GATE / GPAT Scholarship Student Verification ID tab
  • The application form will be displayed on your screen.
  • Fill in the details.
  • Upload all of the documents
  • Click at the “Validate” button.
  • The Student ID / Institute Permanent ID may be obtained from your institute.
  • For new institutes / deemed universities current application number and permanent ID are the same.

Helpline Number

If the applicant has any problem regarding this scholarship then he or she can contact on the following helpline details:-

  • 011-29581333 (Only for Technical Queries)
  • 29581338
  • 29581119
  • Email- pgscholarship@aicte-india.org

Apply Online, Merit List, Search Scholarship Status

Download Pragati Scholarship Merit List | Pragati Scholarship Apply Online | Pragati Scholarship Merit List | Search Scholarship Status

To provide good educational facilities to all of the students of the country, the concerned authorities have launched the Pragati scholarship. Today under this article, we will share the important aspect and specification of the Pragati scholarship for the year 2020. In this article, we will share a step-by-step guide through which you can download the Pragati Scholarship Merit List. Also, in this article, we will share a step-by-step procedure through which you can search for scholarship status online.

Download Pragati Scholarship Merit List 2020

Through the implementation of the Pragati scholarship, the authorities that are appointed to carry on the procedures related to the scholarship will give financial assistance to the students who are not able to pay their fees. The financial assistance from the Pragati scholarship will enable all of the students to study with no issue of the other expenses.  Pragati scholarship will give all of the students of India an escape from the reality so that they can study peacefully.

PFMS Scholarship 2020

Incentives Under Pragati Scholarship

Many
incentives are provided for the students of the country through the Pragati
scholarship. The list of the incentives which are provided to all of the
students is given below:-

  • Tuition Fee of Rs. 30,000/- or at actual, whichever is less.
  • Rs.2000/- per month for 10 months as incidentals charges each year.
  • In case of Tuition fee waiver/reimbursement, Students are eligible to get an amount of Rs. 30,000/- for the purchase of-
    • A fee paid towards competitive examination application forms/exams
  • The scholarship is reserved in the following manners for the backward caste and category-

Overview of Pragati Scholarship Scheme

Name
Pragati Scholarship
Launched
by
AICTE
Beneficiaries
Girls Students
Objective
Providing scholarships
Official
website
https://www.aicte-india.org/

Medhavi National Scholarship Scheme 

Pragati scholarship Schedule

Scholarship announcement date 24th August 2020
Last date to apply for scholarship 30th November 2020
Last date for defect verification 15th December 2020
Last date for Institute verification 15th December 2020

Eligibility Criteria

The
applicant must follow the following eligibility criteria while applying for the
Pragati scholarship scheme:-

  • The scheme is only applicable for the girl child.
  • The candidate should be admitted to 1st year of Degree/Diploma course in any of the AICTE approved institutions of the respective year through the Centralized Admission Process of the State/Central Government.
  • Only two Girl Children per family are eligible.
  • The annual family income must not be more than 8 lakh.
  • The selection of the candidate will be made on merit on the basis of the qualifying examination

Document Required

The
following documents are required while applying for the Pragati scholarship:-

  • Mark Sheet of standards-
  • Income Certificate for the preceding financial year in the prescribed format issued by not below the rank of Tahsildar.
  • Admission letter issued by Directorate of Technical Education for the admission in Diploma/Degree course.
  • Certificate issued by the-
  • Tuition fee receipt.
  • Bank Pass Book in the name of the student indicating-
  • Caste Certificate if belonging to-
  • AADHAR Card
  • Declaration by parents duly signed stating that the information provided by their child is correct and will refund the Scholarship amount if found false at any stage.

Reservation for Pragati scholarship

AICTE had decided to give reservation to the SC, ST and OBC category candidates. AICTE had reserved some percentage of the total scholarship for these categories. The percentage is as follows:-

Pragati Scholarship Selection Criteria

The selection of candidates for the Pragati scholarship will be made on the basis of merit of the qualifying examination and the merit list will also be prepared on the basis of marks scored by the candidate in the qualifying examination. The reservation quota will be as per Government of India norms. If there will be any vacant seat in the reserved category then it will be transferred to the general category.

Application Process Of Pragati Scholarship

To
register yourself under the Pragati scholarship you need to follow the simple
steps given below:-

  • Visit the Official Website link given here
  • On the homepage, click on “Register Here” to create a new profile.
  • Enter the details
  • Click on “Register”
  • A confirmation e-mail link will be sent to the registered e-mail ID.
  • Click on the link given in the mail to confirm your registration.
  • Login through this Direct link
  • Enter personal details under the Tab “Personal Details”.
  • Enter details of family and income under the Tab “Family & Income Details”
  • Now Enter the details of the Institute.
  • Enter the fee paid details under the Tab “Institute Details”.
  • Now Enter all the “Education Details”.
  • Enter the “Bank Details”.
  • Upload all of the documents mentioned above.
  • Click on submit

Procedure to login on the portal

  • First of all, you have to go to the official website of the Pragati scholarship
  • The home page will open in front of you
  • On the only homepage, you are required to enter email or candidate ID and password under the login section
  • Now you have to click on login
  • By following this procedure you can log in on the portal

Procedure
to Check Pragati Scholarship Merit List

To
check the merit list of Pragati scholarship, you have to follow simple steps
given below:-

  • Applicants who want to check their Name in merit list Firstly they have to visit at the official website.
  • Now at the official website of the homepage, you will get the Scholarship Merit List option.
  • Now click on the option and open the merit list.
  • Under the Pragati Scholarship Merit List, you will get following Details-
  • The merit list will be displayed on your screen.
  • Now Click on the Download option and Save

Renewal Application

Those students who are studying in 2nd/ 3rd year of diploma & under graduation degree or 4th year of under graduation degree have to submit the renewal application form. For submitting the renewal application, you have to follow the further mentioned steps:

  • Visit the Official Website link given here
  • On opened page enter your email or candidate ID and password
  • Click login option and then select the appropriate link of the renewal application
  • The application form will appear on the screen
  • Fill all the required details and upload the necessary documents
  • Submit the application and take a print out for further use.

Terms And Conditions Of Pragati Scholarship

  • Only the first-year students can avail Pragati scholarship
  • Passport size photo and signature of the applicant must be uploaded in JPG or JPEG format
  • The size of passport size photo should not be more than 200 KB and for signature, it should be no more than 50 KB
  • Those students who are admitted through management quota cannot apply for this scholarship
  • The applicant is required to have a General savings bank account
  • A student who is availing any other government scholarship cannot avail this scholarship
  • the scholarship amount will be transferred to the candidate’s bank account through direct bank transfer (DBT) mode.
  • if there is a non-availability of eligible applicants in any of the degree or diploma level program then the scholarship for degree and diploma program can be transferred

Helpline Number

For any query. you may contact via below given number and address

  • Ph. No: 29581000
  • E-mail: pragatisaksham@aicte-india.org

एलआईसी कन्यादान पॉलिसी 2020 | पंजीकरण फॉर्म, पात्रता व लाभ ( LIC Kanyadan)

LIC Kanyadan Policy Scheme Apply | कन्यादान पॉलिसी पंजीकरण | Kanyadan Policy Form | एलआईसी कन्यादान पॉलिसी पात्रता व लाभ

एलआईसी कन्यादान पॉलिसी योजना को भारत देश की जीवन बीमा कम्पनी ने बेटियों की शादी और शिक्षा के लिए निवेश करने के लिए आरम्भ की है | इस योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति अपनी बेटी की शादी के लिए इन्वेस्ट कर सकते है | यह प्लान 25 साल के लिए है | इस योजना के तहत लोगो को 121 रूपये प्रतिदिन बचा कर महीने के 3600 रूपये के प्रीमियम का भुगतान  करना होगा लेकिन लोगो को प्रीमियम सिर्फ 22 साल तक ही देना होगा | इस एलआईसी कन्यादान पॉलिसी के 25 साल पूरे होने के बाद आपको 27 लाख रूपये दिए जायेगे |

LIC Kanyadan Policy Scheme 2020

आप इस इंसोरेंस प्लान को 13 से 25 साल के लिए ले सकते है |इस  LIC Kanyadan Policy Scheme के तहत आप अपने चुनी गयी टर्म के 3 साल कम तक ही प्रीमियम का भुगतान करना होगा | कोई भी व्यक्ति कम से कम 1 लाख रूपये तक का बीमा ले सकता है | प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,दस्तावेज़ ,पात्रता आदि आपके साथ साझा करने जा रहे है | अतः हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े |

 बालिका अनुदान योजना

जीवन बीमा निगम कन्यादान पॉलिसी स्कीम 2020

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी स्कीम के अंतर्गत पॉलिसी लेने के लिए पिता की न्यूनतम आयु 18 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए  वर्ष होनी चाहिए और बेटी की न्यूनतम आयु 1 वर्ष होनी चाहिए | यह प्लान 25 साल के लिए मिलेगा  | यह एल आई सी कन्यादान पॉलिसी स्कीम आपकी और आपकी बेटी की अलग अलग आयु के हिसाब से भी मिल सकती है| बेटी की आयु के हिसाब से इस पॉलिसी की समय सीमा घटा दी जाएगी | अगर कोई व्यक्ति कम या ज़्यादा प्रीमियम का भुगतान करना चाहता है  तो वह इस पॉलिसी प्लान में शामिल हो सकता है और इस योजना का लाभ उठा सकता है |

LIC Kanyadan Policy 2020 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य जैसे की आप लोग जानते है कि बेटी की शादी के लिए बचत करना बहुत मुश्किल है इसलिए लाइफ इंसोरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया कम्पनी ने  बेटी की शादी के लिए इन्वेस्ट करने की पॉलिसी शुरू की है जिससे लोग इस योजना में इन्वेस्ट करके अपनी बेटी के उज्जवल भविष्य के लिए पैसे जोड़ सके | इस LIC Kanyadan Policy के ज़रिये पिता अपनी बेटी के भविष्य की सारी आवश्यकताओ को  पूरा करने में सक्षम होंगे  और आप अपनी बेटी के  सभी सपनो को पूरा कर सकेंगे और अपनी बेटी की शादी में पैसो को लेकर परेशानियों से मुक्त हो सकेंगे |

सुकन्या समृद्धि योजना 

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी आयकर लाभ

LIC Kanyadan के अंतर्गत इनकम टैक्स अधिनियम 1961 के सेक्शन 80C में प्रीमियम पर छूट प्रदान की जाती है। यह छूट अधिक से अधिक डेढ़ लाख रुपए तक की प्राप्त की जा सकती हैं। इसी के साथ सेक्शन 10(10D) के अंतर्गत मैच्योरिटी या मृत्यु क्लेम की राशि पर भी छूट प्रदान की जाती है।

LIC Kanyadan Policy किस उम्र तक मिलेगी?

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी लेने के लिए आपकी न्यूनतम आयु 30 वर्ष होनी चाहिए तथा आपकी बेटी की न्यूनतम आयु 1 वर्ष होनी चाहिए। यह पॉलिसी आपको 25 वर्ष की अवधि के लिए मिलती है। जिसके अंतर्गत आपको केवल 22 साल ही प्रीमियम का भुगतान करना होगा। दोस्तों आपको बता दें कि जरूरी नहीं है कि आप यह पॉलिसी जब आपकी बेटी 1 वर्ष की हो तभी कराएं। आप किसी भी समय यह पॉलिसी ले सकते हैं। आपकी बेटी की उम्र के हिसाब से इस पॉलिसी की समय सीमा को घटाया या बढ़ाया जा सकता है।

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी प्रीमियम की राशि

LIC Kanyadan पॉलिसी के अंतर्गत आवेदक अपनी आय के हिसाब से प्रीमियम की राशि घटा या बढ़ा सकता है। जरूरी नहीं है कि आवेदक प्रतिदिन ₹121 ही जमा करें। यदि वह इससे ज्यादा जमा कर सकता है तो वह ज्यादा जमा करें। यदि वह ₹121 नहीं जमा कर सकता तो इससे कम प्रीमियम वाला प्लान ले सकता है।  दोस्तों यदि आप अन्य जानकारी एल आई सी कन्यादान पॉलिसी से संबंधित प्राप्त करना चाहते हैं तो आप एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं या फिर एलआईसी एजेंट से भी मिल सकते हैं।

प्रीमियम का भुगतान कब करना होगा?

आप इस योजना के अंतर्गत प्रीमियम का भुगतान अपनी सहूलियत के हिसाब से कर सकते हैं। आप चाहे तो प्रीमियम का भुगतान रोज कर सकते हैं या फिर 6 महीने में य 4 महीने में य 1 महीने में। जैसे भी आपको ठीक लगे आप वैसे प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं।

Life Insurance corporation  Kanyadan Policy 2020 की विशेषताएं

  • इस पॉलिसी  के अंतर्गत अगर किसी व्यक्ति के हिस्सा लेने के बाद उसकी मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को इस पॉलिसी में प्रीमियम का भुगतान नहीं करना होगा |
  • तथा उसके परिवार को हर साल एलआई सी कम्पनी द्वारा 1 लाख रूपये दिए जायेगे और पॉलिसी के 25 साल पूरे होने के बाद पॉलिसी के नॉमिनी को अलग से 27 लाख रूपये प्रदान किये जायेगे |
  • कोई भी व्यक्ति अपनी बेटी की शादी के लिए इस योजना के तहत निवेश कर सकते है
  • यह एक अनूठी योजना है जो आपकी बेटी के शादी और शिक्षा के लिए एक फंड बनातीं है |

एलआईसी कन्यादान पॉलिसी 2020 के लाभ

  • इस पॉलिसी के अंतर्गत बीमाधारक की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को तुरंत 5 लाख रूपये दिए जायेगे |
  • योजना के दौरान पालिसी धारक को मिलनेवाला मृत्यु लाभ वार्षिक इंस्टालमेंट में दिया जाता है, जो पालिसी धारक की मृत्यु के बाद उसके परिवार की वित्तीय जरूरतों को पूरा करता है।
  • इस योजना में आपको हर साल एलआईसी द्वारा घोषित किए गए बोनस का लाभ भी मिलता है।
  • यदि  बीमाधारक की मृत्यु की एक्सीडेंट में होती है तो उसके परिवार को 10 लाख रूपये दिए जायेगे |
  • यदि कोई व्यक्ति 75 रूपये रोज़ के जमा करता है तो उसे मासिक प्रीमियम देने के 25 साल बाद बेटी के विवाह के समय 14 लाख रूपये प्रदान किये जायेगे |
  • अगर कोई व्यक्ति 251 रूपये रोज बचाता है तो उसे मासिक प्रीमियम देने के  25 साल  बाद 51 लाख रूपये दिए जायेगे |
  • यह एलआईसी कन्यादान  पॉलिसी हर साल अपने पूरे जीवन काल तक शादी करने के बाद भी भुगतान करती रहती है|
  • यदि बीमाधारक की मृत्यु 25 वर्ष की अवधि के बीच होती है तो मूल बीमा राशि का 10 % मृत्यु के बर्ष से हर साल परिपक्वता की तारिक तक दिए जायेगे |
  • कोई भी व्यक्ति रोज के 75 रूपये बचा कर 11 लाख रूपये अपनी बेटी की शादी के लिए पा सकते है |

Kanyadan Policy Scheme 2020 के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की प्रवेश आयु 18 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए |
  • पॉलिसी की अवधि 13 से 25 साल
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • पते का सबूत
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • योजना के प्रस्ताव का विधिवत भरा हुआ और हस्ताक्षर किया हुआ फॉर्म
  • पहला प्रीमियम भरने के लिए चेक या केश
  • जन्म प्रमाण पत्र

एलआईसी कन्यादान पॉलिसी 2020 के लिए आवेदन कैसे करे?

जो इच्छुक लाभार्थी इस पॉलिसी के अंतर्गत आवदेन करना चाहते है तो आपको अपने नज़दीकी LIC ऑफिस /LIC एजेंट से संपर्क कर सकते है और आपको वहाँ जाकर बताना होगा कि आप एलआई सी कन्यादान पालिसी में इन्वेस्ट करना चाहते है | तब वह आपको LIC कन्यादान पालिसी के टर्म बताएगा आपको अपनी इनकम के अनुसार उसे चुनना होगा फिर LIC  एजेंट को आपको अपनी सभी जानकारी और अपने दस्तावेज़ देने होंगे इसके बाद वह आपका फॉर्म भर देंगे | इस तरह आप एलआईसीकन्यादान पॉलिसी योजना  2020 से जुड़ सकते है| | योजना से जुड़ी और अधिक जानकारी पाने के लिए आप LIC की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर देख सकते है |

(JSY) जननी सुरक्षा योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन

Janani Suraksha Yojana Application Form | पीएम जननी सुरक्षा योजना रजिस्ट्रेशन | JSY Appication Form Download | पीएम जननी सुरक्षा योजना पीडीएफ

हमारे देश की सरकार नवजात शिशु तथा गर्भवती महिलाओं की स्थिति में सुधार करने के लिए समय-समय पर योजनाएं आरंभ करती है। आज हम आपको ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जिसका नाम जननी सुरक्षा योजना है। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको जननी सुरक्षा योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे जननी सुरक्षा योजना क्या है?, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन स्थिति आदि। तो दोस्तों यदि आप Janani Suraksha Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

Janani Suraksha Yojana 2020

जननी सुरक्षा योजना का आरंभ हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश की गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से देश की गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं की स्थिति में सुधार आएगा। इस योजना का लाभ केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाएं ही उठा सकती हैं। वे सभी महिलाएं जो इस योजना का लाभ उठाना चाहती हैं उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करवाना होगा। जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को दो श्रेणियों में बांटा गया है। जिसके आधार पर उन्हें सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह श्रेणियां कुछ इस प्रकार है:-

  • ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत वह सभी महिलाएं जो गर्भवती हैं(प्रसव के समय पर) और गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करती हैं उन्हें सरकार द्वारा ₹1400 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए ₹300 प्रदान किए जाएंगे और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹300 दिए जाएंगे।
  • शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- इस योजना के अंतर्गत सभी गर्भवती महिलाओं को प्रसव के समय पर ₹1000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए ₹200 प्रदान किए जाएंगे और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹200 प्रदान किए जाएंगे।

Janani Suraksha Scheme 2020 Registration

देश
के जो इच्छुक लाभार्थी
Janani Suraksha Yojana
2020
के अंतर्गत सरकार की तरफ से
लाभ प्राप्त करना चाहते है
उन गर्भवती महिलाओ को इस योजना
के तहत आवेदन करना
होगा । सरकारी अस्पताल
या मान्य प्राप्त निजी अस्पतालों में
यदि गर्भवती महिलायें प्रसव (If pregnant women
deliver in government hospital or recognized private hospitals ) कराती  हैं।
वे महिलायें इस जननी सुरक्षा योजना 2020  का
लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
सरकार द्वारा दी जाने वाली
धनराशि सीधे पात्र लाभार्थी
के बैंक अकाउंट में
स्थान्तरित की जाएगी इसलिए
गर्भवती महिलाओ का बैंक अकाउंट
होना अनिवार्य है और बैंक
अकाउंट आधार कार्ड से
लिंक होना चाहिए ।

JSY 2020 का उद्देश्य

जैसे की आप
लोग जानते है गरीबी रेखा से जीवन यापन करने वाली महिलाये अपने गर्भवस्था के समय अपनी
स्वास्थ्य सम्बन्धी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाती और न ही अपनी आर्थिक ज़रूरतों को पूरा
कर पाती है ।ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा सुविधाओं की उपलब्धता अभी भी काफी मुश्किल
है। इन अभी परशानियों को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया
है ।इस JSY 2020 के ज़रिये गर्भवती महिलाओ को चिकित्सा सुविधा और वित्तीय सहायता
प्रदान करना । इस योजना के ज़रिये सरकार न केवल माताओं की मृत्यु दर को कम करेगी, बल्कि
बच्चों की मृत्यु को भी कम करेगी। इससे ग़रीब महिलाएं भी अस्पताल में सुरक्षित डिलीवरी
करवा सके ताकि ज़च्चा बच्चा आपात स्थितियों से बच सकें और  सुरक्षित हों।

जननी सुरक्षा योजना 2020 की विशेषताएं

  • JSY सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू की गई है, लेकिन मुख्य लक्ष्य निम्न प्रदर्शन करने वाले राज्यों जैसे बिहार, उड़ीसा, राजस्थान, झारखंड, एमपी, यूपी, जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़ आदि का विकास करना है।
  • योजना के अंतर्गत पंजीकृत प्रत्येक लाभार्थी के पास एमसीएच कार्ड के साथ-साथ जननी सुरक्षा योजना कार्ड भी होना जरूरी है।
  • JSY 2020 एक 100% केंद्र प्रायोजित योजना है और यह नकद सहायता को एकीकृत करता है ।
  •  इस योजना ने ASHA को मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में पहचान की है ।
  • जो गर्भवती महिलाये आंगनवाड़ी या आशा के चिकित्सकों की सहायता से घर पर बच्चे को जन्म देती है । इन उम्मीदवारों 500 रुपये की राशि मिलेगी।
  • बच्चे की नि:शुल्क डिलीवरी के बाद पांच साल तक जच्चा-बच्चा के टीकाकरण को लेकर उन्हें जानकारी भेजी जाती है और नि:शुल्क टीकाकरण किया जाता है|
  • जननी सुरक्षा योजना 2020 के तहत पंजीकरण कराने वाली सभी महिलाओं को कम से कम दो प्रसव-पूर्व जाँच, बिल्कुल मुफ्त दी जाएँगी। इसके अलावा, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी संबंधित सेवाओं के साथ डिलीवरी के बाद की अवधि में उनकी सहायता की जाएगी ।

Janani Suraksha Yojana 2020 की पात्रता

  • इस योजना के तहत देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रो की गर्भवती महिलाये अपना पंजीकरण करवा सकती है ।
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओ को तभी आर्थिक सहायता प्रदना की जायेगा जब वह 19 वर्ष या उससे अधिक आयु के हों। इस आयु के नीचे कोई भी व्यक्ति नामांकन नहीं कर सकता है।
  • JYS के तहत नामांकित हुई हैं, उन्हें केवल सरकारी अस्पतालों या किसी निजी संस्थान में जाना होगा जो सरकार द्वारा चुनी गई है।
  •  केवल दो बच्चों को जन्म देने के लिए, गर्भवती महिलाओं को सभी चिकित्सा और वित्तीय सुविधाएं इस Janani Suraksha Yojana 2020 के तहत सरकार की तरफ से  प्रदान की जाएंगी।
  •  यदि गर्भवती महिला मृत बच्चे को जन्म देती है, तो समय से पहले या बीच में जीवित बच्चों को जन्म देना वैध मामलों के रूप में माना जाएगा। कार्यक्रम के तहत वादे के अनुसार महिलाओं को पैसे दिए जाएंगे।
  • इस योजना के तहत देश की गरीबी रेखा से नीचे आने वाली महिलाओ को लाभ प्रदान किया जायेगा ।

JSY
2020 के
दस्तावेज़

  • आवेदिका का आधार कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • पते का सबूत
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जननी सुरक्षा कार्ड
  • सरकारी अस्पताल द्वारा जारी डिलीवरी सर्टिफिकेट
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

जननी सुरक्षा योजना 2020 में आवेदन कैसे करे ?

देश के जो इच्छुक गर्भवती महिलाये Janani Suraksha Yojana 2020 के तहत सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्राप्त करना चाहती है तो वह उन्हें सबसे पहले Ministry of Health and Family Welfare, Government of India की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर जननी सुरक्षा योजना की Application Form PDF Download करना होगा । आवेदन फॉर्म  को डाउनलोड करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे महिला का नाम ,विलेज नाम ,पता ,आदि भरनी होगी । सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में साथ अपने सभी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा और फिर आवेदन फॉर मको आंगनवाड़ी या महिला स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जमा करना होगा ।

PLI Yojana ऑनलाइन आवेदन व लाभ

PLI Yojana Online Apply | उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना क्या है | उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म | PLI Yojana Online In Hindi

हमारा देश प्रत्येक क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन रहा है। देश को उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मेक इन इंडिया नाम से भी एक कैंपेन लांच किया था। जिसकी वजह से देश में उत्पादन बढ़ा है। सरकार देश में उत्पादन बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास करती है। इसी वजह से सरकार समय-समय पर योजनाएं आरंभ करती रहती है। आज हम आपको ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जिसका नाम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना है। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन स्थिति, लाभार्थी सूची आदि। यदि आप PLI Yojana 2020 से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को विस्तार से पढ़ें।

PLI Yojana 2020

इस योजना का आरंभ 11 नवंबर 2020 को किया गया था। जिसके अंतर्गत घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत अगले 5 साल में दो लाख करोड़ रुपए 10 प्रमुख क्षेत्रों पर खर्च किए जाएंगे। PLI Yojana 2020 के माध्यम से घरेलू विनिर्माण की बढ़ोतरी होगी तथा आयात पर निर्भरता कम होगी और निर्यात बढ़ेगी। जिससे कि इक्नॉमी बेहतर होगी। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी। सरकार द्वारा यह जानकारी दी गई है कि इस योजना पर 1,45,980 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस योजना के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी बढ़ावा मिलेगा तथा उत्पादन को बढ़ोतरी मिलेगी। इस योजना के अंतर्गत 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती की जाएगी।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना पंजीकरण

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना को घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना को आरंभ करने का एक उद्देश्य एशिया में भारत को वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाना भी है। इस योजना के अंतर्गत आने वाले सेक्टरों को धनराशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में आगे बढ़ पाए। सूत्रों के अनुसार इस योजना के अंतर्गत 8 और सेक्टर को शामिल किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत चरणबद्ध निर्माण योजना से भी सहारा लिया जाएगा। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा।

Key Highlights Of Production Based Incentive Scheme 2020

योजना का नाम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देना
आधिकारिक वेबसाइट जल्दी लॉन्च की जाएगी
साल 2020
आरंभ होने की तिथि 11 नवंबर 2020
बजट 2 लाख करोड़

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत सेक्टर

Production Based Incentive Scheme 2020 के अंतर्गत सरकार द्वारा 10 सेक्टर शामिल किए गए हैं जो कि कुछ इस प्रकार है:-

  • एडवांस केमिकल सेल बैटरी
  • इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स
  • ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स
  • फार्मास्यूटिकल ड्रग्स
  • टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट
  • टेक्सटाइल उत्पादन
  • फूड प्रोडक्ट्स
  • सोलर पीवी माड्यूल
  • व्हाइट गुड्स
  • स्पेशलिटी स्टील

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से देश को आत्म निर्भरता की तरफ आगे बढ़ाया जाएगा। Production Based Incentive Scheme 2020 के माध्यम से देश के विभिन्न उत्पादन सेक्टरों को धनराशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह अपने कारोबार को आगे बढ़ा सके। इस योजना के माध्यम से रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे, विदेशी कंपनियां भी भारत में उत्पाद करने के लिए प्रोत्साहित होंगी। इस योजना के माध्यम से निर्यात बढ़ेगा तथा आयात में कमी आएगी। जिससे कि देश की इकोनॉमी बेहतर होगी।

PLI Yojana 2020 के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना का आरंभ 11 नवंबर 2020 को किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • PLI Yojana 2020 का बजट अगले 5 साल के लिए 2 लाख करोड़ों रुपए है।
  • इस योजना के माध्यम से 10 प्रमुख क्षेत्रों पर यह धनराशि खर्च की जाएगी।
  • उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के माध्यम से आयात में कमी आएगी तथा निर्यात बढ़ेगा। जिससे कि इक्नॉमी बेहतर बनेगी।
  • इस योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी।
  • आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी इस योजना के माध्यम से बढ़ोतरी मिलेगी।
  • Production Based Incentive Scheme 2020 के माध्यम से 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती होगी।
  • इस योजना के माध्यम से भारत को एशिया का वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाया जा सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले सेक्टरों को आगे बढ़ाने के लिए धन राशि प्रदान की जाएगी।
  • PLI Yojana 2020 के अंतर्गत चरणबद्ध निर्माण योजना से भी सहारा लिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत जीडीपी का 16 फ़ीसदी योगदान होगा।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत प्रत्येक क्षेत्र का बजट

क्षेत्र बजट
एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी 18,100 करोड़ रुपये
इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट 5000 करोड़ रुपये
ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स 57,042 करोड़ रुपये
फार्मास्यूटिकल ड्रग्स 15000 करोड़ रुपये
टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट 12,195 करोड़ रुपये
टेक्सटाइल उत्पाद 10,683 करोड़ रुपये
फूड प्रोडक्ट्स 10,900 करोड़ रुपये
सोलर पीवी माड्यूल 4500 करोड़ रुपये
व्हाइट गुड्स 6,238 करोड़ रुपये
स्पेशलिटी स्टील 6,322 करोड़ रुपये

Utpadan Adharit Protsahan Yojana के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज (पात्रता)

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • मैन्युफैक्चरिंग प्रमाण पत्र

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ वक्त इंतजार करना होगा। सरकार द्वारा यह योजना अभी लांच की गई है। जल्द ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट लांच की जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च की जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2020 में आवेदन करने की संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस लेख से जुड़े रहना होगा।

(रजिस्ट्रेशन) आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन | Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana Registration | आत्मनिर्भर रोजगार योजना लाभ |

आज दिनांक 12 नवंबर 2020 को हमारे देश की वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण  ने देश के युवाओं को रोजगार के नए अवसर प्रदान करने के लिए आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को आरंभ किया है यह योजना निश्चित रूप से देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी तथा आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना जून 30 2021 तक कार्यरत रहेगी इसी श्रेणी में केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना को भी आरंभ किया गया था | इस प्रकार की योजनाएं केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर रोजगार के नए अवसर प्रदान करने के लिएआरंभ की जाती रही है|

Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana

योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को रोजगार के अवसर देने के लिए बहुत से कार्य किए जाएंगे संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को रोजगार देने के लिए प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को आरंभ किया गया है यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े यहां हम आपको योजना का उद्देश्य, लाभ, पात्रता, दिशा निर्देश, जरूरी दस्तावेज तथा अन्य सभी जानकारियों से रूबरू कराएंगे

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का उद्देश्य

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य कोरोना महामारी के कारण अपना रोजगार गवा चुके लोगों को पुनः नए रोजगार के अवसर प्रदान करना है इस योजना के आरंभ होने से निश्चित ही अर्थव्यवस्था में एक नया बदलाव आएगा तथा हम एक विकसित अर्थव्यवस्था की ओर पुनः प्रवेश करेंगे यह योजना निश्चित रूप से रोजगार प्रदान करने में एक सकारात्मक भूमिका निभाएगी|

मुख्य तथ्य आत्मनिर्भर भारत रोजगार

योजना का नाम आत्मनिर्भर भारत रोजगार
योजना का प्रकार केंद्र सरकार
किसके द्वारा आरम्भ निर्मला सीतारमण
आरम्भ करने की तिथि 12-11-2020
योजना की अवधि 2 वर्ष
उद्देश्य रोजगार के नए अवसर प्रदान करना
लाभार्थी नए कर्मचारी
आधिकारिक वेबसाइट https://www.epfindia.gov.in/site_en/index.php

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना लाभार्थी

योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा उन नए कर्मचारियों को लाभ प्रदान किया जाएगा जो पहले भविष्य निधि में पंजीकृत नहीं थे और अब वह यदि किसी संस्था में ईपीएफओ के अंतर्गत पंजीकृत होते हैं और उनकी सैलरी अथवा वेतन ₹15000 प्रति माह से कम होता है या वह व्यक्ति जिन की नौकरी 1 मार्च 2020 से लेकर 30 सितंबर 2020 के बीच नौकरी चली गई है और पुनः 1 अक्टूबर 2020 के बाद उनको दोबारा नौकरी मिल वह कर्मचारी भविष्य निधि निधि के अंतर्गत पंजीकृत हुआ तो उनको ही आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत सम्मिलित किया जाएगा और सभी लाभ प्रदान किए जाएंगे

आत्मनिर्भर रोजगार योजना का लाभ कैसे उठाएं

  • इस योजना के अंतर्गत कर्मचारी और संस्था दोनों को ही लाभ प्रदान किया जाएगा |
  • ईपीएफओ के अंतर्गत रजिस्टर्ड संस्था यदि नए रोजगार के अवसर प्रदान करती है तो उन संस्थाओं को इस योजना के लाभ मिल पाएंगे |
  • ऐसी संस्थाएं जिनकी कर्मचारी क्षमता 50 से कम है और वह संस्थाएं दो या दो से अधिक कर्मचारियों को रोजगार प्रदान करती है और उन कर्मचारियों को भविष्य निधि के अंतर्गत पंजीकृत करती है तो ही संस्था व कर्मचारी दोनों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा |
  • इसी प्रकार ऐसी संस्थाएं जिनकी कर्मचारी क्षमता 50 से अधिक है तो उनको न्यूनतम 5 नए कर्मचारियों को रोजगार प्रदान कर उनको ईपीएफओ के अंतर्गत पंजीकृत करना अनिवार्य है
  • जो भी संस्थाएं आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का लाभ उठाना चाहती है उनका स्वयं का ईपीएफओ के अंतर्गत पंजीकृत/रजिस्टर्ड होना आवश्यक है ताकि नए कर्मचारी तथा संस्था दोनों को लाभ दिया जा सके
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के लाभ

हमारी केंद्र सरकार इस योजना के अंतर्गत आगामी 2 वर्ष तक योजना के लाभ प्रदान करेगी तो आइए जानते हैं भारत सरकार द्वारा किस प्रकार के लाभ योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाएंगे

  • जिन संस्थाओं की कर्मचारी क्षमता 1000 से कम है उन संस्थाओं में कर्मचारी के वेतन के अनुसार उसके हिस्से का 12% तथा काम देने वाली संस्था के हिस्से का 12% जो कि कुल 24% हुआ केंद्र सरकार द्वारा भविष्य निधि ईपीएफओ के अंतर्गत जमा कराया जाएगा
  • इसी प्रकार जिन संस्थाओं की कर्मचारी क्षमता 1000 से अधिक है तो इन संस्थाओं में कार्यरत कर्मचारियों के वेतन के अनुसार कर्मचारी के हिस्से का 12% ही केंद्र सरकार द्वारा भविष्य निधि में दये होगा
  • यह योगदान केंद्र सरकार द्वारा अगले 2 वर्ष तक प्रदान किए जाएंगे
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

पात्रता व जरूरी दस्तावेज

  • कर्मचारी का ईपीएफओ के अंतर्गत पंजीकरण
  • आधार कार्ड
  • कर्मचारी वेतन ₹15000 प्रति माह तक

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन

जो कर्मचारी, संस्था व लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें भविष्य निधि ईपीएफओ के अंतर्गत अपना पंजीकरण कराना होगा इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा किसी भी प्रकार की नई ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया अभी तक जारी नहीं की गई है यदि केंद्र सरकार द्वारा भविष्य में कोई भी सूचना ऑनलाइन आवेदन को लेकर जारी की जाती है तो हम आपको अपने इस आर्टिकल में परिचित करा देंगे