EK Must Samadhan रजिस्ट्रेशन व लाभ

EK Must Samadhan Yojana Apply | उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना रजिस्ट्रेशन | EK Must Samadhan Uttar Pradesh Form | एकमुश्त समाधान योजना लाभ

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा किसानो को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है।  इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के किसान को एक मुश्त ऋण चुकाने पर 35 प्रतिशत से लेकर शत-प्रतिशत छूट सरकार द्वारा प्रदना की जाएगी। राज्य के बहुत से ऐसे किसान है जो कई बारप्राकृतिक आपदाओं व अन्य कारणों से ऋण नहीं चुका पाता है। ऐसे किसानों के लिए सरकार उन्हें ऋण के ब्याज में छूट दे रही है जिससे  वह  ऋण का आसानी से भुगतान कर सकते है। प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस Uttar Pradehs EK Must Samadhan Yojana 2020  से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,दस्तावेज़ आदि प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े और योजना का लाभ उठाये।

EK Must Samadhan Yojana 2020

उत्तर प्रदेश के जिन किसानो ने कृषि के लिए  ऋण लिया है वह  इस योजना का लाभ उठाकर अपने ऋण का भुगतान कर सकते हैं। EK Must Samadhan Yojana 2020 का लाभ उत्तर प्रदेश के उन किसानो को प्रदान किया जायेगा।  जो 31 जुलाई से पहले अपने ऋणों का भुगतान करते हैं। इसके बाद इस किसान को इस छूट का लाभ नहीं मिल पाएगा तो किसान भाई मौके का फायदा उठाते हुए ऋण का एक मुश्त भुगतान कर मिल रही छूट का फायदा उठा सकते हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए यूपी के किसानो को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इस उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2020 के तहत राज्य के 2.63 लाख से अधिक किसानो को लाभान्वित किया जायेगा। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत तीन श्रेणियों निर्धारित की गयी है जिसकी पूरी जानकारी हमने नीचे दी हुई है।

UP Kisan Karj Rahat List 

एकमुश्त समाधान योजना 2020 की तीन श्रेणियाँ

  • पहली श्रेणी – इस योजना के तहत पहली श्रेणी में राज्य के उन किसानो को रखा गया है जिन्होंने 31 मार्च 1997 से पहले  का ऋण  बाकि है और वह इस ऋण को चूका नहीं पा रहे है उस पर देय पूरा ब्याज इस योजना के तहत माफ़ कर दिया जायेगा। 
  • दूसरी श्रेणी –  इस श्रेणी में उत्तर प्रदेश के उन किसानो को रखा जायेगा। जिन्होंने एक अप्रैल 1997 को या उसके बाद 31 मार्च 2007 तक कर्ज लिया है उन्हें इस तरह ब्याज में छूट दी जाएगी। जिन मामलों में वितरित ऋण राशि के बराबर या अधिक ब्याज की वसूली कर ली गई है, उनमें शेष मूलधन लिया जाएगा।जिन मामलों में वितरित ऋण राशि से कम ब्याज की वसूली की गई उनमें वितरित ऋण राशि की सीमा तक (पूर्व में वसूल ब्याज को घटाते हुए) शेष ब्याज व शेष मूलधन की वसूली की जाएगी।
  • तीसरी श्रेणी – इस तीसरी श्रेणी में राज्य के उन किसानो को रखा जायेगा। जिन्होंने एक अप्रैल 2007  से 31 मार्च 2012 तक कर्ज लिया है तो उन्हें तीन तरीके से छूट दी जाएगी। पहली कर्जदार किसानो पर देय समस्त मूलधन की शत-प्रतिशत वसूली की जाएगी।2. योजना शुरू की तिथि से 31 जुलाई 2018 तक के बीच समझौता कर खाता बंद करने पर ब्याज में 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। 3.एक अगस्त 2018 से 31 अक्टूबर 2018 के बीच समझौता कर खाता करने पर ब्याज में 40 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। 4. एक नवंबर 2019 से 31 जनवरी 2020 के बीच समझौता कर खाता बंद करने पर ब्याज में 35 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2020 का उद्देश्य

जैसे की आप लोग जानते है कि राज्य के किसानो को कृषि करने के लिए ऋण की आवश्यकता पड़ती है। आर्थिक रूप से कमज़ोर किसान ऋण तो ले लेती है लेकिन आर्थिक स्थिति सही न होने की वजह से वह ऋण नहीं चूका पाते है और कभी-कभी तो ब्याज चुकाने में ही किसान की पूरी जिंदगी गुजर जाती है। इसलिए सरकार ने किसानों के हित के लिए कम ब्याज दर उत्तरप्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2020 शुरू की है। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के किसान को एक मुश्त ऋण चुकाने पर 35 प्रतिशत से लेकर शत-प्रतिशत छूट प्रदान करना।  इस योजना का लाभ राज्य के सभी किसानो को प्रदान किया जायेगा। इस योजना के ज़रिये राज्य के किसान अपने द्वारा  लिए गए ऋण को आसानी से चूका सकते है।

एकमुश्त समाधान योजना 2020 के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत राज्य के किसानो को पात्र माना जायेगा।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • ज़मीन के कागज़ात
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2020 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो वह इस योजना के तहत राज्य के किसान ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन कर सकते है। आप आवेदन प्रक्रिया को नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आवेदक को योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।  ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। 
  • इस होम पेज पर आपको आपको योजना का ऑप्शन दिखाई देगा।  आपको इस ऑप्शन पर क्लिक  करना होगा।  ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपो रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।  आपको इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,पता ,मोबाइल नंबर आदि सभी जानकारी भरनी होगी।  सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन करना चाहते है तो ऑफ लाइन आवेदन करने के लिए  सहकारी ग्राम विकास बैंक लखनऊ से संपर्क करना होगा। बैंक में जाकर आपको आवेदन फॉर्म लेना होगा।  इस आवेदन फॉर्म में आपको पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।  सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म के साथ सभी ज़रूरी दस्तावेज़ों को अटैच करके बैंक में जमा करना होगा। इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जायेगा ।

Contact us

EMAIL : upsgvb@yahoo.in , ldb@up.nic.in
PHONE NO. 0522- 3056370,3056446,3056423,3056457,3056460
FAX NO. 0522-2239806