MP E Uparjan 2020- 21| किसान ऑनलाइन पंजीयन,mpeuparjan.nic.in Portal

किसान ऑनलाइन पंजीयन | MP E Uparjan Online Apply | mpeuparjan.nic.in Portal | एमपी ई उपार्जन किसान पंजीकरण

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने एमपी ई उपार्जन पोर्टल आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से MP E Uparjan 2020- 21 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि एमपी ई उपार्जन पोर्टल क्या है?, इसका उद्देश्य, लाभ, आवेदन प्रक्रिया, हेल्पलाइन नंबर आदि। तो दोस्तों यदि आप ई उपार्जन पोर्टल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2020-21

MP E Uparjan 2020- 21 के किसानों के लिए आरंभ किया गया है। जिसके माध्यम से राज्य सरकार मध्यप्रदेश के जो किसान खरीफ सीजन के दौरान समर्थन मूल्य पर फसल सरकार को बेचना चाहते हैं उनके लिए इस पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ हो गई है। राज्य के वह सभी इच्छुक किसान जो सरकार द्वारा तय समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचना चाहते हैं उन्हें इस पोर्टल पर पंजीकरण करवाना होगा।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना

ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन

आपको बता दें कि जैसे कि पिछली बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन की गई थी। इस बार भी पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन ही की जाएगी। लेकिन इस बार पंजीकरण प्रक्रिया में कुछ बदलाव आए हैं। पिछले वर्ष एमपी ई उपार्जन ऑनलाइन पंजीकरण केवल कृषि उपज मंडी के माध्यम से होता था जिसकी वजह से बहुत से किसानों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन इस वर्ष मध्य प्रदेश सरकार ने सभी किसानों को घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से इस ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा उपलब्ध कर दी है।

Key Highlights Of MP E Uparjan 2020-21

योजना का नाम एमपी ई उपार्जन
किसने शुरू की मध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थी मध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्य समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए आवेदन करना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2020

MP E Uparjan 2020- 21 का उद्देश्य

पिछले वर्ष कृषि मंडी के दौरान जो ऑनलाइन प्रक्रिया की गई थी उसकी वजह से मध्यप्रदेश में किसानों को बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था और काफी सारे किसान ऐसे भी थे जो पंजीकरण नहीं कर पाए थे। जिसकी वजह से उन्हें समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर अपनी फसल बेचने पड़ी थी। इस वजह से किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा था। किसानों की इस समस्या को समझते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने इस बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है। इस वर्ष राज्य के किसान ई-उपार्जन के लिए सार्वजनिक डोमेन में ई प्रोक्योरमेंट पोर्टल पंजीकरण केंद्रों में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। जिससे कि उनके समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

एमपी किसान अनुदान योजना

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2020-21 के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस पोर्टल पर  राज्य के लोग घर बैठे अपने कंप्यूटर या मोबाइल के माध्यम से आसानी से ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है।
  • इस योजना का लाभ राज्य के सभी किसान भाई उठा सकते है ।
  • राज्य के किसान मोबाइल पर ऐप डाउनलोड करके भी इस योजना का लाभ उठा सकते है ।
  • मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2020-21 के माध्यम से किसानो को पंजीकरण करने में कोई परेशानियों नहीं होंगी ।
  • ऑनलाइन पोर्टल के शुरू होने से लोगो के समय की भी बचत होगी ।
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर गेहूं बेचने के लिए किसान को इस बार वह तीन तारीखें भी बतानी होगी, जिनमें अनाज लेकर वह खरीदी केन्द्र पर आएगा।

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2020-21 पंजीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

मध्य प्रदेश के जो किसान भाई इस ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते है तो उन्हें कुछ बातो का पर ध्यान देना होगा जो हमने नीचे दिए दिए हुए है ।

  • इस वर्ष मध्य प्रदेश की सभी किसान अपने आधार कार्ड नंबर और समग्र आईडी के माध्यम से पंजीकरण कर सकते है ।
  • यदि आपको समग्र आईडी नहीं है तो आप MP E Uparjan Portal पर पंजीकरण नहीं कर सकते उसके लिए आपको पहले समग्र आईडी के लिए आवेदन करना  होगा ।
  • पंजीयन के लिए आधार अथवा समग्र आई डी का होना अनिवार्य है।
  • आवेदक द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन  करने समय अपने द्वारा दर्ज की गई बैंक खाता जानकारी की जांच करनी चाहिए।
  • मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2020-21 पर रजिस्ट्रेशन के लिए मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है। इस पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए, आपका मोबाइल नंबर आधार से जुड़ा होना चाहिए।
  • पंजीकरण के बाद आपको एक रसीद दी जाएगी इसको आपको संभल कर रखनी होगी ।पंजीयन के पश्चात्, पावती प्रिंट करें तथा खरीदी के समय पावती ले जाना अनिवार्य है।

एमपी ई उपार्जन 2020 -21 पंजीकरण के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की  समग्र आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • ऋणपुस्तिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

MP E Uparjan 2020- 21 पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

यदि आप एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं तो आपको नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

MP E Uparjan
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमे आपको रजिस्टर न्यू के लिंक पर क्लिक करना होगा।
किसान ऑनलाइन पंजीयन
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म में पूछे गए सभी महत्वपूर्ण जानकारी को भरना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप की आवेदन प्रक्रिया सफलतापूर्वक हो जाएगी।

एमपी ई उपार्जन आवेदन स्थिति जानने की प्रक्रिया

किसान ऑनलाइन पंजीयन
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी आवेदन स्थिति आप की कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

MP E Uparjan 2020- 21 मोबाइल ऍप डाउनलोड कैसे करे ?

  • सबसे पहले आपको मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा । उसके बाद आपको यहाँ  “mp e uparjan” लिखकर सर्च करना है।
  • इसके बाद आपको उच्चतम मूल्यांकित ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करना होगा।
  • इस प्रकार इस मोबाइल एप की मदद से आप खरीफ सहित अन्य सभी फसलों के लिए पंजीकरण कराकर लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • आप ई उपार्जन पोर्टल  परजाकर भी  अपना मोबाइल नंबर और समग्र  आईडी नंबर डालकर मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए लिंक प्राप्त कर सकते हैं।

किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा कैसे जोड़े ?

MP E Uparjan
  • आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर एक फॉर्म खुलकर आ जायेगा। इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान की व्यक्तिगत जानकारी ,मोबाइल नंबर ,किसान का नाम ,समग्र सदस्य आईडी , किसान की बैंक सम्बन्धी जानकारी आदि भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा जुड़ जायेगा।

पावती पर्ची प्राप्त कैसे करे ?

  • सर्वप्रथम आपको ई उपार्जन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको खरीफ 2020 -21 का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • फिर आपको खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2020-21 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का लिंक दिखाई देगा। आपको लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त करे का लिंक दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
MP E Uparjan
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जायेगा। इस पेज पर आपको फॉर्म दिखाई देगा जिसमे आपको पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।
  •  सभी जानकारी भरने के बाद किसान सर्च करे के बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त हो जाएगी आप इसे प्रिंट भी कर सकते है।

सहायता प्राप्त कैसे करे ?

इस ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन  करने में कोई परेशानी हो रही है तथा आप किसी तरह की सहायता प्राप्त करना चाहते है तो आप सहायता के लिए euparjanmp@gmail.com संपर्क कर सकते है और अपने समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है।

Important Links

मध्य प्रदेश खसरा खतौनी नकल, भू नक्शा मध्यप्रदेश, MP Bhulekh

MP Bhulekh Online | एमपी खसरा खतौनी नकल ऑनलाइन चेक | भू नक्शा मध्यप्रदेश
| MP Bhulekh In Hindi  

एमपी
भूलेख की पूरी जानकारी
राजस्व विभाग द्वारा ऑनलाइन कर दी गयी
है ।मध्यप्रदेश सरकार ने कम्प्यूटरीकृत मोड
में ऑनलाइन भूमि अभिलेख (खसरा
/ खतौनी / नक्शा भू-अभिलेख / भूलेख)
प्रदान करना शुरू कर
दिया है।  राज्य
के जिन लोगो के
पास अपनी भूमि है
और वह अपनी भूमि
से जुडी सभी जानकारी
प्राप्त करना(People of the state who
have their own land and want to get all the information related to their land )
चाहते है तो वह  MP Bhulekh की
ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन
देख सकते है ।
MP Bhulekh का मतलब है
की भूमि से सम्बंधित
लिखित रूप से जानकारी
। आज हम आपको
अपने इस लेख के
माध्यम से बतायेगे  आप किस प्रकार
ऑनलइन अपनी ज़मीन से
जुडी सभी जानकारी प्राप्त
कर सकते है ।

मध्य प्रदेश खसरा खतौनी नकल, भू नक्शा

आप लोग ऑनलाइन पोर्टल पर अपने ज़मीन का पूरा विवरण देखने के बाद पूरा मालिकाना हक़ जमा सकते है क्योकि इसमें आपकी ज़मीन से जुडी सभी जानकारी बिलकुल सही दी जाती है । राज्य की अलग अलग जगहों पर एमपी भूलेख को अलग अलग नाम से जाना जाता है जैसे भूमि अभिलेख ,खेत के कागज़ात ,खेत का नक्शा ,भूमि का ब्यौरा ,खाता (Such as land records, farm papers, farm map, land details, account etc.) आदि । राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी अपनी भूमि से जुडी मध्य प्रदेश खसरा खतौनी नकल, भू नक्शा प्राप्त करना चाहते है तो वह घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से  ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन  ही सरलता से देख सकते है ।

जय किसान फसल ऋण माफी योजना

MP Bhulekh का उद्देश्य

जैसे की आप लोग जानते है की ऑनलाइन सुविधा के शुरू होने से पहले राज्य के नागरिको को अपनी भूमि से जानकारी प्राप्त करने के लिए सरकारी राजस्वा विभाग या अन्य विभाग के कार्यालयों के कई चक्कर लगाने पड़ते हैं।और बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है इन सभी परशानियों को देखते हुए राज्य सरकार ने एमपी भूलेख की पूरी जानकारी ऑनलाइन कर दी गयी है ।अब लोग घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से आसानी मध्य प्रदेश खसरा खतौनी ,भू नक्शा ,जमाबंदी आदि सकते है या तो अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र (Common Service Center – CSC) में जाकर अपनी जमीन व खेत का पूरा ब्यौरा आराम से प्राप्त कर सकते हैं ।अब लोगो को सरकारी कार्यलयो के चक्कर काटने नहीं पड़ेंगे ।इससे समय की बचत होगी ।

एमपी भूलेख के लाभ

  • MP Bhulekh खसरा खतौनी (MP Bhulekh Khasra Khatauni) आप मध्य प्रदेश भूलेख के माध्यम से डाउनलोड भी कर सकते है ।
  • इस ऑनलाइन सुविधा के माध्यम से राज्य के लोग अपनी भूमि से जुडी सभी जानकारी देखने के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा ।
  • इस योजना के ज़रिये सरकारी कार्यालय/ पटवारखानों मे दलालों के जरिए होने वाला भ्रष्टाचार खत्म होगा।
  •  मध्य प्रदेश के नागरिक ऑनलाइन माध्यम से अपनी भूमि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।
  • इस ऑनलाइन भूलेख पोर्टल के शुरू होने से यूपी के लोगो के  समय की भी बचत होगी |

एमपी भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन कैसे चेक करें?

मध्य प्रदेश के जो इच्छुक लाभार्थी भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन चेक करना चाहते है तो नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे ।

  • सर्वप्रथम आवेदक को MP bhulekh की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा ।ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।
  • इस होम पेज पर आपको Free Services का ऑप्शन दिखाई देगा ।आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा । ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे खुल जायेगा ।
एमपी भूलेख खसरा खतौनी
  • आपको खसरा, बी 1, नक्शा प्रतिलिपि का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा । विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा ।
  • इस पेज पर आपको कुछ जानकारी जैसे अपने जिला ,तहसील ,पटवारी हल्का , गांव आदि का चयन करना होगा । इसके बाद भू-स्वामी या खसरा नंबर का चयन करें।
  • उसके बाद स्क्रीन पर दिखाया गया Captcha Code भरें तथा विवरण देखें पर क्लिक करना होगा ।अतः इसके बाद आप खसरा/ बी-1/ नक्शा पर क्लिक करके Print Out ले सकते है|

MP Bhulekh खसरा खतौनी भू अभिलेख , जानकारी

  • सबसे पहले लाभार्थी को लैंड रिकॉर्ड की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा ।ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।
एमपी भूलेख:
  • इस होम पेज पर आपको एक नक्शा दिखाई देगा। इस नक्शे में दिखाई दे रहे जिलों में से आपको अपने जिले का चयन करना होगा ।अपने जिला का चयन करने के बाद जिस जिले हेतु आपको जानकारी चाहिए तथा उसके बाद अपनी जमीन का खसरा/खतौनी प्राप्त करने हेतु अपनी “तहसील” के नाम पर क्लिक करना होगा ।
  • तहसील चुनने के बाद ग्राम के रा।नि।मं (राजस्व निरीक्षक मण्डल) व पटवारी हल्का की जानकारी के लिये संबन्धित तहसील के सामने गॉव की सूची पर क्लिक करना होगा ।
खसरा खतौनी भू अभिलेख
  • गाँव की सूची पर क्लिक करके जानकारी का पेज खुल जाएगा।
MP Bhulekh
  • इसके बाद सभी खसरे की जानकारी प्राप्त करने के लिए कुल खसरे पर क्लिक करना होगा ।
खसरा खतौनी भू अभिलेख
  • आप चाहे तो सभी जरूरी जानकारी भरकर भूलेख खसरा खतौनी का प्रिंट आउट नकल निकाल सकते है।

मध्य
प्रदेश किश्तबंदी नक्शा कैसे देखे ?

  • सबसे पहले आपको एमपी भू नक्शा की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा ।ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।
मध्य प्रदेश किश्तबंदी नक्शा
  • इस पेज पर आपको कुछ जानकारी जैसे डिस्ट्रिक्ट ,तहसील हल्का विलेज आदि का चयन करना होगा ।इसके बाद आपको दिए हुए स्थान पर अपने प्लाट नंबर या जमीन नंबर को भरना होगा तथा “सबमिट” बटन को क्लिक करना होगा ।
  • अपने प्लॉट नंबर को डालने के बाद आप अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर “खसरा नंबर, खाता या जमीन धारक का नाम, भूमि का प्रकार, भूमि का क्षेत्रफल” आदि सभी जानकारी देख सकते हैं।
Madhya Pradesh Bhu Naksha
  • आप को इसी पेज पर “खसरा, किश्तबन्दी, और भू-नक्शा” को डाउनलोड और प्रिंटआउट लेने की सुविधा भी प्रदान की गई है।

Public User पंजीकरण करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
खसरा खतौनी नकल, भू नक्शा
खसरा खतौनी नकल, भू नक्शा
  • अब आपके सामने फॉर्म खुलकर आएगा। आपको इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी जैसे कि आपका नाम, आपका पता, आपकी ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि भरकर रजिस्टर के बटन पर क्लिक करना होगा।

भू अभिलेख प्रतिलिपि देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
एमपी भूलेख
  • इसके पश्चात आपको भू अभिलेख प्रतिलिपि के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने लॉगइन पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको यूजरनेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड और कैप्चा कोड भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करते ही आप भू अभिलेख की प्रतिलिपि देख सकते हैं।

भू अभिलेख प्रतिलिपि डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको भू अभिलेख प्रतिलिपि डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने लॉगइन पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको यूजरनेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड और कैप्चा कोड भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करते ही आप भू अभिलेख की प्रतिलिपि देख सकते हैं।

Diversion Intimation देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Diversion Intimation के लिंक पर क्लिक करना होगा।
MP Bhulekh
  • अब आपके सामने एक लॉगइन पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको यूजर नेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि भरना होगा। इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने Diversion Intimation खुलकर आ जाएगा।

राजस्व भुगतान की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको राजसव भुगतान के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक लॉगइन पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको यूजर नेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि भरना होगा। इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने राजस्थान भुगतान खुलकर आ जाएगा।

वॉलेट रिचार्ज की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिक यूज़र की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको वॉलेट रिचार्ज के लिंक पर क्लिक करना होगा।
MP Bhulekh
  • अब आपके सामने एक लॉगइन पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको यूजर नेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि भरना होगा। इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने वॉलेट रिचार्ज खुलकर आ जाएगा।

भू नक्शा देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको फ्री सर्विस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • फ्री सर्विस के लिंक पर क्लिक करने के बाद आपको भू नक्शा के लिंक पर क्लिक करना होगा।
एमपी भूलेख
  • इसके पश्चात आपको अपने जिले का, तहसील का तथा गांव का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें भू नक्शा होगा।

गांव की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको फ्री सर्विस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • फ्री सर्विस इसके लिंक पर क्लिक करने के बाद आपको विलेज लिस्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
एमपी भूलेख
  • इसके पश्चात आपको रिपोर्ट प्रकार का चयन करना होगा।
  • अब आपको जिले तथा तहसील का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको रिपोर्ट देखें के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने गांव की सूची खुलकर आ जाएगी।

प्रतिलिपि आवेदन पत्र डाउनलोड करने की प्रक्रिया

एमपी भूलेख
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिस पर आपको दो ऑप्शन दिखाई देंगे आवेदन फॉर्म और खसरा मैप नकल नया आवेदन पत्र।
  • आपको इन दोनों में से जो भी डाउनलोड करना है आप उस पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते हैं।

खसरा /b1 / नक्षा प्रतिलिपि देखने की प्रक्रिया

एमपी भूलेख
  • आपके सामने एक नया फोन खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का, तहसील का आदि चयन करना होगा और विवरण देखें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपका खसरा विवरण आप ही कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

डाटा परिमार्जन रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको फ्री सर्विस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको डाटा परिमार्जन रिपोर्ट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
डाटा परिमार्जन रिपोर्ट
  • ऑप्शन पर क्लिक करते ही डाटा परिमार्जन रिपोर्ट आपकी स्क्रीन पर होगी आप अपने जिले की रिपोर्ट देख सकते हैं।

Grievance दर्ज करने की प्रक्रिया

पब्लिक

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
mp Bhulekh
  • अब आपको पब्लिक का ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने सॉन्ग फुल कर आएगा आपको इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी भरकर अपनी शिकायत दर्ज करनी होगी।

पंजीकृत उपयोगकर्ता

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पंजीकृत उपयोगकर्ता लिंक पर क्लिक करना होगा।
एमपी भूलेख
  • अब आपके सामने फॉर्म खुलकर आएगा आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को भरकर अपनी शिकायत दर्ज करनी होगी।

शिकायत या फिर सुझाव ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मध्यप्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको शिकायत/सुझाव ट्रक फिल्म पर क्लिक करना होगा।
एमपी भूलेख
  • अब आपको शिकायत संख्या या फिर मोबाइल नंबर एंटर करना होगा और खोजें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी शिकायत/सुझाव स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

कांटेक्ट अस

  • आयुक्त भू अभिलेख एवं बंदोबस्त मोती महल ग्वालियर मध्य प्रदेश – 474007
  • फ़ोन नंबर – 0751 -2441200
  • फैक्स – 0751 – 2441202
  • ईमेल आईडी – clrgwa@mp.nic.in

Helpline Number

हमने अपने अपने इस लेख में एमपी भूलेख से संबंधित सभी जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी समस्या का सामना कर रहे हैं या फिर आपको किसी प्रकार की शिकायत करनी है तो आप एमपी भूलेख की हेल्पलाइन नंबर पर कांटेक्ट कर सकते हैं । या फिर आप ईमेल भी भेज सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी इस प्रकार है।

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन

लाडली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश ऑनलाइन | एमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन | MP Ladli Laxmi Scheme Application Form | Ladli Laxmi Yojana in Hindi

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना का शुभारम्भ राज्य सरकार द्वारा 1 अप्रैल 2007 को लड़कियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए किया गया है । इस योजना के अंतर्गत राज्य की बालिकाओ को 1,18,000 रूपये की आर्थिक सहायता मध्य प्रदेश सरकार द्वारा (Financial assistance of Rs 1,18,000 to the girls of the state by the Madhya Pradesh government ) प्रदान  की जाएगी । इस योजना के तहत  लड़कियों की शैक्षिक और आर्थिक स्थिति में सुधार करने पर जोर दिया जा रहा है । प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल  के माध्यम से इस Ladli Laxmi Yojana 2020  से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता दस्तावेज़ आदि प्रदान करने जा रहे है ।

MP Ladli Laxmi Yojana 2020

इस योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।आप इस योजना के तहत आवेदन ऑफलाइन तथा ऑनलाइन दोनों तरीके से कर सकते है । ऑफलाइन आवेदन के लिए आप आंगनवाड़ी में ,लोक सेवा केंद्र जैसे महिला बाल विकास अधिकारी आदि से संपर्क कर सकते है ।ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आप लाडली लक्ष्मी योजना 2020  की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर कर सकते है ।इस योजना का लाभ राज्य की केवल गरीब परिवार की उन  लड़कियों को प्रदान किया जायेगा जिनका जन्म 1 अप्रैल 2008 के बाद हुआ है ।इस MP Ladli Laxmi Yojana 2020 के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली कुल धनराशि  1 18000 रूपये लाभार्थी बालिकाओ को किश्तों में प्रदान की जाएगी ।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना 

Ladli Laxmi Yojana Madhya Pradesh 2020 Highlights

योजना का नाम मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी राज्य सरकार द्वारा
लाभार्थी राज्य की बालिकाएं
विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग
उद्देश्य लड़कियों के जीवन स्तर
को सुधारना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट http://ladlilaxmi.mp.gov.in/

लाड़ली लक्ष्मी योजना

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिव राज सिंह चौहान जी ने भोपाल के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में राष्ट्र ध्वज फेहराया इस समारोह के दौरान मुख्यमंत्री के सम्बोधन में गरीबो और बेटियों पर ज़ोर देते हुए कहा है कि बेटियों का कल्याण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है मध्य प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत 78 हज़ार से अधिक ई सर्टिफिकेट जारी किये गए है। और मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि अब प्रदेश में कोई भी सरकारी कार्यक्रम बेटियों कि पूजा से शुरू किया जायेगा।

लाड़ली लक्ष्मी योजना में दी जाने वाली धनराशि की किश्ते

एक बार आवेदन प्रक्रिया
पूरी हो जाने के
बाद, दस्तावेज आंगनवाड़ी द्वारा सत्यापित किए जाते हैं।
एक बार सत्यापित होने
पर, समय-समय पर
आवेदकों के खाते में
किश्तों को जमा किया
जाता है। इसकी पूरी
जानकारी हमने नीचे दी
हुई है ।आप इसे
विस्तारपूर्वक पढ़े ।

  • पहली किश्त – इस योजना के तहत सबसे पहले लगातार 5 सालो तक 6 -6 हज़ार रूपये MP लाड़ली लक्ष्मी योजना की निधि में जमा किये जायेगे तथा कुल 30 ,000 रूपये जमा किये जायेगे ।
  • दूसरी किश्त – इसके बाद आप बेटी के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर 2000 रुपये की वित्तीय सहायता बैंक खाते में परिवार को प्रदान की जाएगी।
  • तीसरी किश्त – बालिका कक्षा 9 में प्रवेश लेने पर 4000 रूपये की धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी ।
  • चौथी किश्त – जब लड़की कक्षा 11 में प्रवेश लेगी तो उसे 6000 रूपये की धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी ।
  • पांचवी किश्त – फिर बालिका के कक्षा 12 में प्रवेश लेने पर 6000 रूपये इ पेमेंट के ज़रिये दिए जायेगे ।
  • छटवी किश्त – और जब बालिका 21 साल की पूरी हो जाएगी तब उसे 1  लाख रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी ।

सुकन्या समृद्धि योजना 

लाडली लक्ष्मी योजना 2020 का उद्देश्य

जैसे
की आप लोग जानते
है राज यमे बहुत
से ऐसे परिवार है
जो आर्थिक रूप से कमज़ोर
होने के करना अपनी
बेटियों को उच्च शिक्षा
नहीं दे पाते और
न ही उनके विवाह
के लिए पैसे इकट्ठा
नहीं कर पाते ।
बहुत से लोग लड़का
और लड़कियों में भेद भाव
भी करते है ।इन
सभी परेशानियों को देखते हुए
राज्य सरकार ने लाडली लक्ष्मी योजना 2020 को शुरू किया
है ।इस योजना के
तहत बेटी की पढाई
और शादी के लिए
आर्थिक सहायता प्रदान करना ।इस योजना
के तहत मध्य प्रदेश
के नागरिको की नकारात्मक सोच
को बदलना और बालिकाओ के
भविष्य को उज्जवल बनाना
।इस  पैसे
का इस्तेमाल लड़की द्वारा उसकी उच्च शिक्षा
अथवा विवाह के लिए किया
जा सकता है। मध्य
प्रदेश राज्य में महिलाओं और
पुरुषों के लिंग अनुपात
को कम करना  और राज्य में
महिलाओं के सशक्तिकरण को
बढ़ावा  देना

MP Ladli Laxmi Scheme 2020 के लाभ

  • इस योजना का लाभ एमपी की गरीब वर्ग की बालिकाओ को प्रदान  किया जायेगा ।
  • इस योजना के तहत बालिका की शादी 18 वर्ष की आयु तक नहीं होना चाहिए केवल 21 साल की उम्र के बाद 1 लाख रुपये (एक लाख रुपए) को राज्य सरकार द्वारा बेटी के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दिए जायेंगे।
  • एमपी सरकार राज्य में इस लाडली लक्ष्मी योजना के माध्यम से शिक्षा के स्तर में सुधार करना चाहती है। कक्षा के अनुसार, इस योजना के तहत धन किश्तों में दिया जाता है। एक बार लड़की स्कूल छोड़ दे तो, उसे इस योजना के तहत लाभ मिलाना बंद हो जायेगा ।
  • अगर एक परिवार में दूसरी संतान के रूप में एक साथ 2 बेटियों ने जनम लिया है तो वो MP लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ उठा सकती है ।
  • अगर किसी परिवार ने संतान गोद ली है वो भी इस योजना में आवेदन कर सकते है |
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए, जन्म के पहले वर्ष में लड़की-बच्चे को नामांकन करना अनिवार्य है।
  • MP Ladli Laxmi Scheme 2020 के तहत, लड़की अपनी शादी या उच्च शिक्षा के लिए 1 लाख रुपये के अंतिम भुगतान का उपयोग कर सकती है। इस पैसे को दहेज़ के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।

लाडली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश 2020 की पात्रता

  • आवेदिका के माता पिता आय कर डाटा नहीं होने चाहिए ।
  • आवेदक मध्य प्रदेश के स्थायी निवासी होने चाहिए ।
  • आवेदिका 18 वर्ष तक अविवाहित होनी चाहिए ।
  •  यदि आपके परिवार ने किसी अनाथ बालिका को गोद लिया हो, तो भी आप उसे प्रथम बालिका मानते हुए योजना का लाभ ले सकते हे पर आपके पास उस बालिका को गोद लेने का कोई प्रमाण होना चाहिए |

Madhya
Pradesh Ladli Laxmi Yojana 2020 के
दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • बालिका जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता का पहचान पत्र
  • बैंक अकॉउंट पासबुक
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना 2020 में आवेदन कैसे करे?

राज्य
के जो इच्छुक लाभार्थी
इस लाडली लक्ष्मी योजना 2020 के तहत आवेदन
करना चाहते है तो वह
निचव दिए गए तरीके
को फॉलो करे ।

  • सर्वप्रथम आवेदक को योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा । ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगी ।
  • होम पेज पर आपको “आवेदन पत्र” का ऑप्शन दिखाई देगा ।आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा ।ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा |
मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना
  • इस पेज पर आपको “जनसामान्य” का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा । इसके बाद अगले पेज पर आवेदन फॉर्म खुल जायेगा ।
Ladli Laxmi Yojana
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा । उसके बाद आपको जानकारी सुरक्षित करे का बटन पर क्लिक करना होगा ।
  • इसके बाद  मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना का मुख्य आवेदन पत्र आपके सामने आप ही कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगा। इस आवेदन फॉर्म में आपको सभी जानकारी जैसे बालिका की व्यक्तिगत जानकारी
Application form Ladli laxmi yojana
  • परिवार की जानकारी
online aavedan ladli laxmi yojana
  • टीकाकरण की स्थिति तथा पत्राचार की जानकारी
मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना
  • चौथी दस्तावेजों को अपलोड करना ।
Ladli Laxmi Scheme
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा । इसके बाद आपको अंत में एक रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होगा इस रजिस्ट्रेशन नंबर की सहायता से आप आसानी से आवेदन फॉर्म की स्थिति को चेक कर सकते हैं ।

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना में ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी सेंटर जाना होगा।
  • आंगनवाड़ी सेंटर से आपको मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना का आवेदन फॉर्म देना होगा।
  • अब आपको आवेदन फॉर्म ध्यानपूर्वक भरना होगा उसमें सभी दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको यह फॉर्म उसी आंगनवाड़ी केंद्र में जमा करना होगा।

मध्य
प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रमाण-पत्र कैसे देखे ?

  • सबसे पहले आपको ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा | ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा | इस होम  पेज पर आपको नीचे प्रमाण पत्र का ऑप्शन दिखाई देगा |
मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा | ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आप अगले पेज पर पहुंच जायेगे | इस पेज पर आपको बालिका का पंजीयन क्रमांक भरना होगा |फिर खोजे के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • पंजीयन कोड डालने के बाद प्रमाण पत्र खुल जाएगा जिसे डाउनलोड और इमेज की तरह सेव भी किया जा सकता है।

मध्य
प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी लिस्ट ऑनलाइन कैसे देखे ?

  • सबसे पहले आपको ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा | ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा | इस होम  पेज पर आपको बालिका विवरण  का ऑप्शन दिखाई देगा |
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा | विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खुल जायेगा |
मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना
  • इस पेज पर यहाँ पर प्रमाण-पत्र के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना नाम लिस्ट में नाम है या नहीं देख सकते हैं।लिस्ट में बालिका का नाम अलग-अलग तरीकों से सर्च किया जा सकता हैं जैसे:

1.बालिका
के नाम से

2.बालिका
के माता के नाम
से

3.बालिका
के पिता के नाम
से

4.बालिका
के पंजीयन क्रमांक से

5.बालिका
के जन्म दिनांक से

  • इसके बाद खोजे के बटन पर क्लिक करना  होगा फिर आपके सामने पूरी लिस्ट आ जाएगी |

बालिका विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको लाडली लक्ष्मी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होमपेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको बालिका विवरण की लिंक पर क्लिक करना होगा।
Ladli Laxmi Yojana
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा इस पेज पर आपको जिला और खोजने के प्रकार का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको खोजें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • बालिका का विवरण आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

छात्रवृत्ति पंजीयन करने की प्रक्रिया

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना
  • आपके बालिका का पंजीयन क्रमांक भर के खोजे पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको बाकी पूछी गई जानकारियों को भरकर जानकारी सुरक्षित करें कि लिंक पर क्लिक करना होगा।

Helpline Number

  • Tel : Commissioner: 0755-2550910
  • Fax: 0755-2550912
  • E-mail: ladlihelp@gmail.com

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना  ऑनलाइन आवेदन | एमपी किसान कल्याण योजना एप्लीकेशन फॉर्म | Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana Registration | MP Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana In Hindi

आप सभी लोग जानते हैं केंद्र सरकार ने सन 2022 का किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार समय-समय पर किसानों के लिए कई सारी योजनाएं आरंभ करती रहती है। ऐसी एक योजना मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आरंभ की गई है। जिसका नाम मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप MP Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Kisan Kalyan Yojana

इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश में रहने वाले किसानों को सरकार द्वारा दो किस्तों में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह योजना किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आरंभ की गई है। Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana 2020 के अंतर्गत आर्थिक सहायता सीधे किसान के बैंक खाते में पहुंचा दी जाएगी। जिससे कि उनकी परिस्थितियों में सुधार आए। इस योजना की खास बात यह है कि इस योजना के अंतर्गत उन किसानों को लाभ की राशि पहुंचाई जाएगी जो पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं। वह सभी किसान पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं उन्हें इस योजना के लिए अलग से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। उनके खाते में पीएम किसान सम्मान निधि योजना के राशि के साथ-साथ Kisan Kalyan Yojana की राशि पहुंचा दी जाएगी।

MP E Uparjan 

एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना नई अपडेट

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को सरकार द्वारा धनराशि प्रदान की जाने की प्रक्रिया आरंभ हो गई है। शनिवार को मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने 1.75 लाख किसानों को धनराशि ट्रांसफर की है और इससे पहले शुक्रवार 25 सितंबर को 5.70 लाख किसान परिवारों को धनराशि ट्रांसफर की गई थी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पंजीकृत होना अनिवार्य है। आपको बता दें कि इस योजना के माध्यम से प्रदेश के लगभग 77 लाख किसानों को लाभ पहुंचेगा। वह सभी किसान जिनको इस योजना के अंतर्गत लाभ मिलेगा उनकी जानकारी किसान सम्मान निधि की आधिकारिक वेबसाइट पर दर्ज कर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में दी जाने वाली धनराशि

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा किसान कल्याण योजना के अंतर्गत ₹2000 की दो किस्ते किसान के सीधे खाते में पहुंचाई जाएंगी। अब किसान सम्मान निधि योजना के ₹6000 तथा किसान कल्याण योजना के ₹4000 मिलाकर किसानों को प्रति वर्ष ₹10000 की सरकार की ओर से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी  इन ₹10000 में ₹6000 केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किए जाएंगे तथा ₹4000 राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए जाएंगे।

Key Highlights Of MP Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana 2020

योजना का नाम मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
किसने आरंभ की मध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थी मध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्य ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2020

किसान कल्याण योजना मध्य प्रदेश का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश के सभी किसानों को आय को बढ़ाना है। Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के माध्यम से मध्य प्रदेश सरकार किसानों की आर्थिक सहायता करेगी  जिससे कि किसानों की आय में वृद्धि होगी। इस आर्थिक सहायता की वजह से कर्ज में डूबे किसानों को भी काफी सहायता प्राप्त होगी। इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि से जोड़ा गया है। जिससे की पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को इस योजना के अंतर्गत कवर किया जा सके।

जय किसान फसल ऋण माफी योजना 

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana 2020 के लाभ तथा विशेषताएं

  • Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojanaके अंतर्गत सरकार द्वारा किसानों की आर्थिक सहायता करी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता की राशि ₹4000 होगी।
  • यह ₹4000 दो किस्तों में दिए जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को कवर किया गया है।
  • यदि आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पहले पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन करना होगा।
  • मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के माध्यम से किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।
  • मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत सहायता राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचाई जाएगी।

एमपी किसान कल्याण योजना की पात्रता

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाला व्यक्ति मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत रजिस्टर होना चाहिए।
  • आवेदक लघु सीमांत किसान होना चाहिए।
  • आवेदक के पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए जिसमें वह खेती करता हो।

किसान कल्याण योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • पीएम किसान योजना का रजिस्ट्रेशन नंबर
  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • किसान विकास पत्र या फिर किसान क्रेडिट कार्ड
  • राशन कार्ड

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना एमपी के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभार्थी होना अनिवार्य है। यदि आपने पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन नहीं किया है तो आप इसके लिए आवेदन कर के मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
  • इसके बाद आपके सामने फार्मर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में आधार नंबर तथा इमेज कोड भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आपके इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरकर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे।

एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया

यदि आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखना चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की लाभार्थी सूची देखनी होगी। वे सभी लाभार्थी जिनको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिल रहा है उनको मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का भी लाभ प्रदान किया जाएगा। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

  • सर्वप्रथम आपको  आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको बेनिफिशियरी लिस्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Kisan Kalyan Yojana
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य, डिस्ट्रिक्ट, सब डिस्टिक, ब्लॉक और गांव का चयन करना होगा।
  • अब आपको गेट रिपोर्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लाभार्थी सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

Contact Us

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको contact us का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
किसान कल्याण योजना
  • इस पेज पर आपको कांटेक्ट डिटेल्स मिल जाएगी।