SFURTI Yojana ऑनलाइन आवेदन, लाभ व उद्देश्य

SFURTI Yojana Apply | स्फूर्ति योजना ऑनलाइन आवेदन | स्फूर्ति योजना एप्लीकेशन फॉर्म | स्फूर्ति योजना लाभ व उद्देश्य

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं समय के साथ पारंपरिक उद्योगों में गिरावटआती जा रही है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सन 2005 में भारत सरकार ने स्फूर्ति योजना आरंभ की थी आज हम आपको इस लेख के माध्यम से स्फूर्ति योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे SFURTI Yojana 2020 क्या है?, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

SFURTI Yojana 2020

भारत के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा स्फूर्ति योजना आरंभ की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य पारंपरिक ढंग से काम कर रहे उद्योगों का विकास करना है। इस योजना के अन्तर्गत इन पारंपरिक उद्योगों में लगे कारीगरों का कौशल विकास किया जाएगा। इसी के साथ इस योजना के अंतर्गत उद्योगों को फंडिंग भी प्रदान की जाएगी। SFURTI Yojana 2020 के तहत बांस, खादी और शहद जैसे ग्रामीण एमएसएमई उद्योग से जुड़े कारीगरों की क्षमता का विकास किया जाएगा। इस योजना को पारंपरिक ढंग से काम कर रहे उद्योगों में तेजी लाने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत कारीगरों को ट्रेनिंग प्रदान करने के साथ-साथ कारीगर एक्सचेंज भी किए जाएंगे। जिससे कि कारीगर दूसरे उद्योगों से संबंधित काम भी सीख सकें। कारीगर एक्सचेंज होने से कारीगरों की क्षमता भी बढ़ेगी।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

स्फूर्ति योजना 2019 बजट सत्र

Sfurti Yojana 2005 में आरंभ की गई थी। लेकिन यह योजना 2019 के बजट सत्र में घोषणा होने की वजह से दोबारा से चर्चा में आईं है। 5 जुलाई 2019 को देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट के भाषण में स्फूर्ति योजना पर जोर देने की घोषणा की थी। इस घोषणा में वित्त मंत्री द्वारा यह बताया गया था कि वर्ष 2019 में 100 नए क्लस्टर बनाए जाएंगे जिससे कि करीब 50000 हस्त कारीगरों को रोजगार मिलेगा।

Key Highlights Of SFURTI Yojana 2020

योजना का नाम स्फूर्ति योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य पारंपरिक उद्योगों का विकास करना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2020

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन

SFURTI Yojana 2020  के लाभार्थी

  • कारीगर
  • क्लस्टर विशिष्ट निजी क्षेत्र
  • पंचायती राज संस्थान
  • गैर सरकारी संगठन
  • केंद्र और राज्य सरकारों के अर्ध सरकारी संस्थान
  • राज्य और केंद्र सरकारों के फील्ड अधिकारी
  • कॉरपोरेट्स एंड कॉर्पोरेट रिस्पांसिबिलिटी फाउंडेशन
  • उधम संघ
  • स्वयं सहायता समूह
  • उद्यमों के नेटवर्क
  • सहकारी संघ
  • शिल्पकार संघ
  • निजी व्यवसाय विकास सेवा प्रदाता
  • संस्थागत विकास सेवा प्रदाता
  • उद्यमी
  • कच्चे माला प्रदाता
  • मशीनरी निर्माता
  • श्रमिक आदि

स्फूर्ति योजना के अंतर्गत फंड

  • हेरिटेज क्लस्टर/  पुराने उद्योग समूह (1000 से 2500 कारीगर)- 8 करोड रुपए तक की आर्थिक सहायता।
  • प्रमुख क्लस्टर (500-1000 कारीगर)- तीन करोड़ रुपए तक की आर्थिक सहायता।
  • मिनी क्लस्टर (500 कारीगर)-  1 करोड़ रुपए तक की आर्थिक सहायता।

Note: उत्तर पूर्वी क्षेत्र/जम्मू कश्मीर तथा पहाड़ी राज्यों के लिए प्रति क्लस्टर कारीगरों की संख्या 50% कम है।

स्फूर्ति योजना का उद्देश्य

स्फूर्ति योजना का मुख्य उद्देश्य पारंपरिक ढंग से काम कर रहे उद्योगों का तथा उनके कारीगरों का कौशल विकास करना है। इसके लिए उन्हें फंडिंग भी प्रदान की जाएगी तथा विशेष प्रकार की ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से उद्योगों में स्थिरता बनी रहेगी और रोजगार में भी बढ़ोतरी आएगी। इस योजना के माध्यम से कारीगरों को बेसिक उपकरणों और सुविधाओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाएगी जिससे कि उनको काम करने में आसानी हो।

SFURTI Yojana 2020 का लाभ तथा विशेषताएं

  • स्फूर्ति योजना के माध्यम से पारंपरिक ढंग से काम कर रहे हैं उद्योगों का कौशल विकास प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से उद्योगों में स्थिरता बनी रहेगी।
  • इस योजना के माध्यम से कारीगरों के लिए उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी जिससे कि उन्हें काम करने में आसानी हो।
  • ग्रामीण उद्यमियों को चुनौती और अफसरों का सामना करने के लिए इस योजना के अंतर्गत सक्षम बनाया जाएगा।
  • SFURTI Yojana 2020 के अंतर्गत ग्रामीण उद्योगों के लिए क्लस्टर बनाए जाएंगे जिससे कि उस क्लस्टर के कारीगरों की कौशल विकास किया जा सके।
  • इस योजना के माध्यम से रोजगार में भी बढ़ोतरी होगी।
  • स्फूर्ति योजना का आरंभ भारत के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत बांस, खादी तथा शहर जैसे ग्रामीण एमएसएमई उद्योग से जुड़े कारीगरों की क्षमता का विकास किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत कारीगरों को ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी।
  • SFURTI Yojana 2020 का आरंभ वर्ष 2005 में किया गया था।
  • इस योजना के अंतर्गत 50000 हस्त कारीगरों को रोजगार मिलेगा।
  • स्फूर्ति योजना के अंतर्गत एक करोड़ रुपए से लेकर 8 करोड रुपए तक का फाइं प्रदान किया जाएगा।

स्फूर्ति योजना 2020 की पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक डिटेल्स

स्फूर्ति योजना 2020 के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नाव के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अब आप को सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप स्फूर्ति योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

Leave a Comment